https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

नई दिल्ली: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) 5 जुलाई को छात्रों को नेशनल इनिशिएटिव फॉर प्रोफिसिएंसी इन रीडिंग विद अंडरस्टैंडिंग एंड न्यूमरैसी (NIPUN Bharat) की सौगात देने वाले हैं. इस संबंध में शिक्षा मंत्रालय की आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से जानकारी दी गई है. शिक्षा मंत्री सोमवार को निपुण भारत कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वर्चुअल मोड में निपुण भारत को लॉन्च करेंगे.

क्या है निपुण भारत का उद्देश्य?
शिक्षा मंत्री की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, इसमें एक शॉट वीडियो, राष्ट्रगान और निपुण भारत संबंधित दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे. इस कार्यक्रम का उद्देश्य आधारभूत शिक्षा और संख्यात्मक ज्ञान के लिए एक सर्व सुलभ वातावरण उपलब्ध कराना होगा. इसके जरिए कोशिश होगी कि प्रत्येक बच्चा वर्ष 2026-27 में कक्षा 3 के अंत तक रीडिंग, राइटिंग और संख्यात्मक कंटेंट सीखने के लिए जरूरी प्रतिस्पर्धा हासिल कर सके.

सभी राज्यों में चलाया जाएगा अभियान
इस योजना के तहत स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पांच स्तरीय व्यवस्था (देश, प्रदेश, जिला, ब्लॉक और स्कूल लेवल) में लागू किया जाएगा. निपुण भारत योजना की खास बात यह है कि यह सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इस कार्यक्रम को समग्र शिक्षा अभियान के तहत चलाया जाएगा. यह आधारभूत साक्षरता और संख्यात्मक ज्ञान का यह कार्यक्रम राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लागू करने की दिशा में अपनाए गए उपायों में से एक है.

Source : Zee news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *