https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 10 अगस्त को उत्तर प्रदेश के महोबा में गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले (BPL) लाभार्थियों के बीच एलपीजी का कनेक्शन (LPG Connection) वितरित कर उज्ज्वला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana ) के दूसरे चरण की शुरुआत करेंगे. प्रधानमंत्री इस अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से PMUY योजना के लाभार्थियों से संवाद भी करेंगे. बता दें कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY ) की शुरुआत वर्ष 2016 में हुई थी और उस समय 5 करोड़ बीपीएल परिवारों की महिला सदस्यों को एलपीजी कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया था.

इसके बाद, अप्रैल 2018 में इस योजना का विस्तार कर इसमें सात और श्रेणियों (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति, पीएमएवाई, एएवाई, अत्यंत पिछड़ा वर्ग, चाय बागान, वनवासी, द्वीप समूह) की महिला लाभार्थियों को शामिल किया गया. साथ ही, इसके लक्ष्य को संशोधित कर 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन कर दिया गया। इस लक्ष्य को निर्धारित तिथि से सात महीने पहले अगस्त 2019 में ही हासिल कर लिया गया.

मिलेगी ये सुविधा

उज्ज्वला 2.0 के तहत लाभार्थियों को जमा मुक्त एलपीजी कनेक्शन के साथ-साथ पहला रिफिल और हॉटप्लेट निःशुल्क प्रदान किया जाएगा. साथ ही, इसमें नामांकन की प्रक्रिया के लिए न्यूनतम कागजी कार्रवाई की जरूरत होगी. उज्ज्वला 2.0 में प्रवासियों को राशन कार्ड या निवास प्रमाण-पत्र जमा करने की जरूरत नहीं होगी. ‘पारिवारिक घोषणा’ और ‘निवास प्रमाण’, दोनों, के लिए स्वयं द्वारा एक घोषणा पर्याप्त है. उज्ज्वला 2.0 एलपीजी तक सभी की पहुंच के प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण को साकार करने में मदद करेगी.

वित्तीय वर्ष 21-22 के केन्द्रीय बजट में PMUY स्कीम के तहत एक करोड़ अतिरिक्त एलपीजी कनेक्शन (LPG Connection) के प्रावधान की घोषणा की गई थी. इन एक करोड़ अतिरिक्त पीएमयूवाई कनेक्शन (उज्ज्वला 2.0 के तहत) का उद्देश्य कम आय वाले उन परिवारों को जमा-मुक्त एलपीजी कनेक्शन प्रदान करना है, जिन्हें पीएमयूवाई के पहले चरण के तहत शामिल नहीं किया जा सका था.

Input : Tv9 bharatvarsh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *