https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर, सोमवार को जिलाधिकारी और एसएसपी जयंतकांत के साथ शांति समिति की बैठक आयोजित की गई. जिसमे आने वाले पर्व दुर्गा पूजा व चेहल्लुम को लेकर कई अहम निर्णय लिये गये. जिसमे डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने आदेश जारी किया कि दुर्गा पूजा के दौरान कोई अस्थायी प्रतिमा की स्थापना नहीं होगी और न ही पंडाल का निर्माण होगा। इसके अलावा चेहल्लुम के मौके पर भी किसी तरह का जुलूस नहीं निकाला जाएगा। इसके अलावा ये भी निर्णय लिया गया कि चेहल्लुम के अवसर पर भी किसी तरह का न तो जुलूस निकाला जाएगा और न ही अखाड़ा का आयोजन होगा। जिला प्रशासन से जुलूस, अखाड़ा, प्रतिमा स्थापना या पंडाल निर्माण का कोई लाइसेंस जारी नहीं करेगा। यदि कहीं पर इसकी अवहेलना की गई तो आयोजक के साथ प्रतिभागियों पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान डीजे बजाने पर पूर्णतया प्रतिबंध रहेगा। डीएम ने कहा कि जिले में गंगा जमुना तहजीब की पवित्र परंपरा रही है। इसे अक्षुण्ण रखने में न केवल प्रशासन बल्कि आम नागरिक तथा शांति समिति के सदस्यों की भी अहम भूमिका रही है। एसएसपी ने कहा कि सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट की जाती है तो संबंधित व्यक्ति या संगठन पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि सामाजिक माहौल में खलल डालने वाले तत्वों पर पुलिस प्रशासन की पैनी नजर बनी हुई है। यदि किसी भी तरह का अफवाह फैलाया जाता है तो इसके आरोपित को जेल भेजने में कोई गुरेज नहीं होगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *