कलर्स के रिएलिटी शो ‘हुनरबाज़’ के विनर का नाम सामने आ गया है. तमाम कंटेस्टेंट्स को पीछे छोड़ते हुए भागलपुर बिहार के आकाश सिंह ने शो जीत लिया है. 17 अप्रैल को हुए ग्रैंड फिनाले में आकाश सिंह ने ‘हुनरबाज़’ की ट्रॉफी जीती, साथ ही 15 लाख रुपए की प्राइज़ मनी भी अपने साथ लेकर गए. वहीं यो हाइनेस फर्स्ट रनरअप बनीं जिन्होंने सुखदेब, हार्मनी ऑफ द पाइन्स ऑर्केस्ट्रा, रॉकनामा सूफी रॉक बैंड, संचिता और सुब्रतम और अनिर्बान को हराकर 5 लाख रुपए जीते. आकाश के लिए भी इतने बड़े शो का विजेता बनना किसी सपने से कम नहीं था जिसे लेकर वो जितने खुश हैं उतने ही भावुक भी हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में आकाश ने अपनी खुशी ज़ाहिर की. आकाश ने कहा, ‘मैं बहुत खुश हूं मेरा पूरा परिवार बहुत खुश है. जो सपना मैंने देखा था वो आखिरकार पूरा हो गया. जब मैंने शो जीता तो मेरे माता-पिता मेरे साथ थे और वो वाकई बहुत खुश थे’. वहीं पिंकविला से बात करते हुए आकाश ने कहा ‘जब मैं ऑडिशन के लिए यहां आया था, तब मुझे उम्मीद नहीं थी कि मैं जीत पाऊंगा या नहीं, क्योंकि वहां बहुत सारे टैलेंटेड लोग थे. लेकिन शो में एंट्री करने के बाद, मैंने और भी ज्यादा मेहनत की, अपना रास्ता बनाया और आखिरकार अब शो जीत लिया’.

अपने स्ट्रगल के बारे में बात करते हुए आकाश ने बताया ‘साल 2018 में मैं एक शो के लिए मुंबई आया, लेकिन वहां मेरा सलेक्शन नहीं हुआ. लेकिन इसके बाद मैं अपने गांव वापस नहीं गया. मैंने यहीं रुकने और खुद पर कड़ी मेहनत करने का फैसला किया. जिस जगह पर मैं प्रैक्टिस करता था, वहां मालिक ने मुझ पर ध्यान दिया और मुझे उनके साथ रहने का मौका दिया. इस तरह ये सब शुरू हुआ, और मैंने मन बना लिया था कि इस बार मैं किसी भी तरह एक रियलिटी शो में आऊंगा. तभी हुनरबाज का अनाउंसमेंट हुआ. मैंने ऑडिशन दिया और मेरा सलेक्शन हो गया, अब आखिरकार मैंने शो जीत लिया.’

आपको बता दें कि ऑडिशन के दौरान आकाश ने बताया कि वो यहां अपने सपने पूरे करने आए थे, लेकिन कुछ हासिल ना कर पाने के बाद उनकी घर वापस जाने की हिम्मत नहीं हुई. इस दौरान उन्होंने दूध सप्लाई करने से लेकर वॉचमैन तक का काम किया. पैसे ना होने की वजह से वो कई बार भूखे भी सोए हैं और ठिकाना ना होने की वजह से पेड़ के नीचे भी. आकाश की जर्नी के बारे में परिणीति चोपड़ा भी काफी भावुक हो गई थीं. शो में कई बार परिणीति को आकाश के लिए भावुक होते देखा गया था.

Source : abp news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *