https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

नई दिल्ली, Noida Twin Towers Demolition: अब से कुछ घंटे बाद दिल्ली से सटे नोएडा में कुतुबमीनार से ऊंचे दो रिहायशी टावर एक ब्लास्ट के साथ मिट्टी में मिल जाएंगे। मिली जानकारी के मुताबिक, तय योजना के तहत नोएडा में सुपरटेक बिल्डर के ट्विन टावर (सियान और एपेक्स) को रविवार को दोपहर 2:30 पर 3700 किलोग्राम बारूद से विस्फोट किया जाएगा। इसके 9 से 13 सेकेंड के भीतर दोनों टावर नीचे आ जाएंगे।

लोगों को यह जानकर हैरानी होगी कि ये दोनों टावर दिल्ली की ऐतिहासिक इमारत कुतुबमीनार से भी ऊंचे हैं। जहां कुतुबमीनार की ऊंचाई महज 72.2 मीटर है, वहीं नोएडा सेक्टर-93ए में अवैध रूप से बने सियान और एपेक्स टावर की ऊंचाई 100 मीटर से के आसपास है। जहां एपेक्स टावर 32 मंजिला है तो वहीं सियान 29 मंजिला है, लेकिन रविवार को दोपहर बाद इतिहास हो जाएंगे।

इन दोनों अवैध टावरों को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद ढहाया जा रहा है। इन टावरों को गिरा रही एफडिस कंपनी के इंजीनियरों का कहना है कि तय प्लान के मुताबिक, नोएडा में सुपरटेक के अवैध ट्विन टावर ठीक 2 बजकर 30 मिनट पर ब्लास्ट करके गिरा दिए जाएंगे।

9 से 13 सेकेंड में ढह जाएंगे ट्विन टावर

एफडिस कंपनी से जुड़े इंडियन ब्लास्ट चेतन दत्ता ही रिमोट का बटन दबाकर ब्लास्ट करेंगे। वह तकरीबन 50-70 मीटर की दूरी से ब्लास्ट के लिए रिमोट का बटन दबाएंगे। इसके बाद दोनों टावर 9 से 13 सेकेंड में जमीन पर ढेर हो जाएंगीं।  

अन्य जानकारों का कहना है कि ट्विन टावर के ढहने में सिर्फ 15 सेकेंड भी लग सकते हैं। इसके पीछे वजह यह बताई जा रही है कि ट्विन टावर करीब 100 मीटर ऊंचे हैं, जो कुतुब मीनार की ऊंचाई से भी अधिक है। ऐसे में अनुमान से कुछ सेकेंड का समय और लग सकता है।

एडफिस इंजीनियरिंग के अधिकारियों का कहना है कि ट्विन टावर को वाटर फॉल इम्प्लोजन’ तकनीक से सुरक्षित तरीके से गिराया जाएगा। आसपास रह रहे लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। सबसे नजदीक की इमारत एपेक्स और सियान से महज 9 मीटर की दूरी पर है, इसलिए सावधानी बरती जा रही है कि कोई हानि नहीं हो और इमारतों को भी नुकसान नहीं पहुंचे।

Input : dainik jagran

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *