बड़ा ऐलान: अदार पूनावाला ने कहा- सरकार को 200 और जनता को 1000 रुपए में मिलेगी ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन

0 0
Read Time:3 Minute, 8 Second

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) वैक्सीन की कीमतों को लेकर लंबे समय से संशय की स्थित बनी हुई थी. लेकिन रविवार को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) के सीईओ अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) ने वैक्सीन की कीमत को लेकर बड़ी बात कही है. उन्होंने कहा कि सरकार को ऑक्सफोर्ड (Oxford) की वैक्सीन 200 रुपए में दी जाएगी. वहीं, जनता को यह वैक्सीन 1 हजार रुपए में मिलेगी. पुणे की सीरम इंस्टीट्यूट में ऑक्सफोर्ट-एस्ट्राजैनेका की वैक्सीन कोविशील्ड का निर्माण हो रहा है. गौरतलब है कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने रविवार को कोविशील्ड को आपातकालीन इस्तेमाल की अनुमति दे दी है.

भारत में जल्द ही वैक्सीन प्रोग्राम शुरू हो जाएगा. इसके लिए सरकार ने भी तैयारियां कर ली हैं. शनिवार को देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ड्राई रन किया गया था. भारत सरकार के अलावा यूरोपीय संघ (European Union) भी वैक्सीन निर्माताओं की मदद के लिए आगे आया है. ईयू ने यह मदद वैक्सीन निर्माण बढ़ाने और वितरण को आसान करने के लिए की है.

दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा कि वे हर महीने ऑक्सफोर्ट-एस्ट्राजैनेका की वैक्सीन के 50-60 मिलियन डोज बना रहे हैं. कंपनी ने कहा है कि यह वैक्सीन फाइजर-बायोएनटेक के मुकाबले सस्ती है और ट्रांसपोर्टेशन भी आसान है. खास बात है कि भारत ने 2021 के मध्य तक 130 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा है.
सरकार के फैसले का इंतजार
कंपनी के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा कि वैक्सीन के 40-50 मिलियन डोज लगाए जाने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि हम सरकार के साथ कॉन्ट्रैक्टर साइन करने का इंतजार कर रहे हैं. 7-10 दिनों में वैक्सीन उपलब्ध हो जाएंगी. उन्होंने कहा कि सरकार ने अभी हमें वैक्सीन निर्यात करने की अनुमति नहीं दी है. जबकि, साऊदी अरब और दूसरे कुछ देशों से हमारे द्वपक्षीय संबंध हैं. हम अगले कुछ हफ्तों में सरकार से अनुमति देने के लिए कहेंगे, ताकि हम 68 दूसरे देशों तक वैक्सीन पहुंचा सकें.

Input : News18

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Previous post मुजफ्फरपुर : अनोखी प्रेम कहानी, जीते जी समाज ने नहीं स्वीकारा, लेकिन मरने के बाद एक ही चिता पे साथ किया दाह संस्कार
Next post बिहार मे अब रोड एक्सीडेंट मे एक की मौत पर भी पीड़ित परिवार को मिलेगी 4 लाख रूपए की सहायता

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: