भाजपा की नगर इकाई की उपप्रमुख सुनीता शुक्ला ने वडोदरा की 24 वर्षीय क्षमा बिंदु के 11 जून को खुद से शादी करने के फैसले पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. सुनीता शुक्ला ने कहा, अगर उसकी शादी मंदिर में हो रही है, तो हम उसे ऐसा नहीं करने देंगे. उन्होंने कहा, ऐसी शादियां हिंदू धर्म के खिलाफ हैं.

सुनीता शुक्ला ने कहा कि बिंदु मानसिक रूप से बीमार है. उन्होंने कहा कि हिंदू संस्कृति में कहीं भी यह नहीं लिखा है कि लड़का किसी लड़के से शादी कर सकता है या लड़की लड़की से शादी कर सकती है. शुक्ल ने कहा कि मैं मंदिर में शादी के खिलाफ हूं, उसे किसी भी मंदिर में खुद से शादी करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. ऐसी शादियां हिंदू धर्म के खिलाफ हैं. इससे हिंदुओं की आबादी कम होगी. अगर कुछ भी धर्म के खिलाफ जाता है, तो कोई कानून नहीं चलेगा.

कौन है क्षमा बिंदु
क्षमा समाजशास्त्र में ग्रेजुएट हैं और मौजूदा समय में एक प्राइवेट कंपनी के लिए वरिष्ठ भर्ती अधिकारी के रूप में काम करती हैं. उनके माता-पिता दोनों इंजीनियर हैं. उनके पिता दक्षिण अफ्रीका में हैं और उनकी मां अहमदाबाद में रहती हैं.

लहंगा, पार्लर बुक
उल्लेखनीय है कि शादी को लेकर लड़कियों की अलग-अलग ख्वाहिश होती है. लेकिन, क्षमा की ख्वाहिश अलग है. 11 जून को शादी के लिए क्षमा ने लहंगा से लेकर पार्लर और ज्वेलरी तक सब बुक किया है. क्षमा खुद से शादी करने जा रही हैं. क्षमा फेरे लेने तक सभी रीति रिवाजों के साथ शादी करेंगी. वे सिंदूर तक लगाएंगी. लेकिन शादी में न कोई दूल्हा होगा और न ही बारात.

हनीमून मनाने गोवा जाएंगी
क्षमा का कहना है कि उनके माता-पिता खुले विचारों वाले हैं और उन्होंने शादी के लिए आशीर्वाद दिया. वो शादी के बाद हनीमून पर भी जाएंगी. इसके लिए उन्होंने गोवा को चुना है जहां वह दो हफ्ते तक रहेंगी. इस तरह की शादी को सोलोगैमी या ऑटोगैमी कहा जाता है जिसमें एक व्यक्ति खुद से शादी करता है.

इनपुट : आज तक

Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *