https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

पटना. बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव की हलचल तेज है. सूत्रों की मानें तो महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर बात बन गई है. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) और कांग्रेस (Congress) के बीच मची खींचतान की खबरों के बीच सीट शेयरिंग को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है. बताया जाता है कि महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को अंतिम रूप दे दिया गया है. जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस 68 सीटों पर चुनाव लड़ने वाली है. तो वहीं CPIML को 19 सीटें मिलेंगी. इधर, CPI और CPM के खाते में संयुक्त रूप से 10 सीटें होंगी. बाकी सीटें राजद के पास रहेंगी. बताया जा रहा है कि राजद मुकेश सैनी को समायोजित करेगा मुकेश सैनी वीआईपी पार्टी को 10 से 12 सीटें मिल सकती हैं.

राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस के बीच सीटों की हिस्सेदारी को लेकर खटपट की खबरें जोरों पर थी. कहा जा रहा है कि प्रियंका गांधी के दखल के बाद इस मामले में बीच का रास्ता निकाला गया. माना जा रहा है कि इसके बाद सीट शेयरिंग पर महागठबंधन के भीतर लगभग सहमति बन गई और कांग्रेस पार्टी ने भी अपना रुख नरम कर लिया. वहीं कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने न्यूज़ 18 से खास बातचीत में कहा है कि उनकी प्राथमिकता फासिस्ट भाजपा को हराना है. सूत्रों से जानकारी के मुताबिक पटना स्थित सदाकत आश्रम कार्यालय में शक्ति सिंह गोहिल समेत कई बड़े कांग्रेस नेता बंद कमरे में बैठे और सीट बंटवारे पर बातचीत भी की. इस बैठक में मदन मोहन झा, अखिलेश सिंह, सदानन्द सिंह औऱ कोकब कादरी भी शामिल थे.

नामों पर भी चर्चा
इस बीच खबर है कि कांग्रेस ने अपनी प्राथकिता वाली सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम को भी अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है. गौरतलब है कि गुरुवार को कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडेय के साथ दोनों सदस्य और बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल और प्रदेश अध्यक्ष मदनमोहन झा, विधायक दल के नेता सदानंद सिंह, प्रभारी सचिव अजय कपूर और वीरेन्द्र राठौर गुरुवार को एक साथ बैठे और सभी नेताओं ने प्राथमिकता वाली सीटों की सूची क्रमवार बना ली है.

Input : News18

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *