Bihar Election 2020: भाजपा के दूसरे व तीसरे चरण के प्रत्याशियों के नाम पे मुहर, कई विधायको की छुट्टी

0 0
Read Time:4 Minute, 24 Second

पटना, Bihar Election 2020: विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय चुनाव संचालन समिति की बैठक शनिवार शाम दिल्ली में हुई। जेपी नड्डा की अध्यक्षता में भाजपा मुख्यालय में हुई बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह मौजूद थे। बैठक में बिहार में दूसरे और तीसरे चरण के प्रत्याशियों के नाम पर चर्चा हुई।

बिहार से बैठक में भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, चुनाव प्रभारी देंवेंद्र फड़नवीस, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधामोहन सिंह और प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल शामिल हुए। चुनाव संचालन समिति की बैठक में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री सौदान सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन भी शामिल हुए।

बता दें कि इससे पहले चार अक्टूबर को राष्ट्रीय चुनाव संचालन समिति की बैठक में पार्टी ने पहले चरण के लिए २९ प्रत्याशियों के नामों पर हरी झंडी दी थी। अभी 81 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा बाकी है। ऐसे में शनिवार शाम हुई बैठक को काफी अहम माना जा रहा है। प्रधानमंत्री की मौजूदगी में वरिष्ठ नेताओं के बीच चुनाव प्रचार अभियान को लेकर भी चर्चा हुई।

भाजपा ने दूसरे चरण में कई विधायकों की कर दी छुट्टी

सूचना है कि भाजपा ने दूसरे और तीसरे चरण वाले क्षेत्रों में कई विधायकों का टिकट काट दिया है। टिकट गंवाने वालों में अमनौर के शत्रुघ्न तिवारी उर्फ चोकर बाबा, चनपटिया के प्रकाश राय, सुगौली के रामचंद्र सहनी और बगहा के राघव शरण पांडेय जैसे कई विधायकों के नाम शुमार हो गया है। इसी तरह रक्सौल के विधायक डॉ. अजय कुमार सिंह का भी टिकट काट दिया है। हालांकि जहां-जहां पार्टी ने टिकट काट दिया उन सीटों पर प्रत्याशियों के नाम का औपचारिक रूप से टिकट का एलान नहीं किया है। इससे पहले पार्टी ने पहले चरण में झाझा विधायक डॉ. रवींद्र यादव की छुट्टी कर दी थी।

सीट शेयरिंग और समीकरण बना वजह

विधायकों का टिकट काटने के पीछे वजहें कई बताई जा रही हैं। इसमें जदयू के साथ सीट शेयरिंग के अलावा मौजूदा विधायकों के प्रति पार्टी की नाराजगी सबसे अहम कारण है। इसके अलावा सांसदों के दबाव में भी पार्टी ने कई विधायकों की छुट्टी की है। यही नहीं, कुछ के पीछे क्षेत्र में नाराजगी भी अहम कारण बना है। हालांकि यह सबसे अहम वजह नहीं है। आधा दर्जन से अधिक विधानसभा क्षेत्र ऐसे भी जहां पूरी तरह संगठन और जनता की नाराजगी होने के बावजूद पार्टी ने विधायकों पर भरोसा जताया है।

कल गया में होगी बड़ी रैली

बता दें कि बिहार में दूसरे चरण और तीसरे चरण प्रत्याशियों के नाम की घोषणा अभी बाकी है। वहीं, दूसरे चरण के लिए नामांकन शुरू हो गया है। ऐसे में पार्टी द्वारा बुलाई गई बैठक को काफी अहम माना जा रहा है। इस बीच राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा की रविवार को गया में रैली भी होने वाली है।

इनपुट : जागरण

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: