https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर । सड़क और रेल मार्ग बुधवार को बुरी तरह प्रभावित रहा। सड़क मार्ग में पूरी दिन लोग जाम में फंसे रहे। वहीं शाम करीब सात बजे सिग्नल का प्वाइंट फेल होने से रेल मार्ग जाम हो गया। मुजफ्फरपुर जंक्शन के माड़ीपुर पुल के समीप सिग्नल का प्वाइंट फेल हो गया। सिग्नल के अधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं लगी।

ट्रेनों का परिचालन बंद होने पर सिग्नल के अधिकारी वहां पहुंचे। उसके बाद काम शुरू हुआ। इसके कारण अप व डाउन दोनों तरफ की गाड़ियों को विभिन्न स्टेशनों पर रोकना पड़ा। मुजफ्फरपुर की आने-जाने वाली सभी ट्रेनों को रास्ते में ही रुक गईं। करीब ढाई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सिग्नल काम करना शुरू किया। उसके बाद ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ।

रामदयालु, मोतीपुर एवं अन्य स्टेशनों पर ट्रेनें खड़ी रहने से यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। मच्छरों का कोपभाजन बनना पड़ा। एक जगह पर इतनी देर ट्रेन रुकने से यात्री गर्मी में उबल गए। 14674 शहीद एक्सप्रेस रामदयालु में ढ़ाई घंटे से अधिक देरी तक खड़ी रही। 12537 मुजफ्फरपुर-मंडवाडीह एक्सप्रेस मुजफ्फरपुर जंक्शन पर खड़ी रही। 05502 परीक्षा स्पेशल ट्रेन स्टेशन पर खड़ी रही।

ट्रेन खोलने को लेकर विद्यार्थियों ने हंगामा भी किया। उनका कहना था कि दूर-दूर से परीक्षा देने आए। परीक्षा स्पेशल में बैठे तो गाड़ी चल ही नही रही। मुजफ्फरपुर स्टेशन जाम होने पर बाद में 05502 पाटलिपुत्र-नरकटियागंज पैसेंजर और 05201 पाटलिपुत्र-रक्सौल, 05516 पाटलिपुत्र-रक्सौल पैसेंजर ट्रेन को पायलेटिग कर निकाला गया। वहीं 19037 ब्रांदा एक्सप्रेस मोतीपुर स्टेशन के समीप खड़ी रही। रात को करीब 10 बजे से ट्रेनों का परिचालन सामान्य हो सका। मौके पर स्टेशन डायरेक्टर मनोज कुमार, स्टेशन प्रबंधक अखिलेश कुमार सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

इनपुट : जागरण

Advertisment

One thought on “मुजफ्फरपुर जंक्शन पर सिग्नल फेल होने से ढाई घंटे तक विभिन्न स्टेशनों पर फंसी रही ट्रेंने”
  1. You’re really a excellent webmaster. The site loading velocity is amazing.
    It sort of feels that you are doing any distinctive trick.
    Moreover, the contents are masterwork. you have performed a fantastic
    process in this topic! Similar here: najlepszy sklep
    and also here: E-commerce

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *