उच्च शिक्षा विभाग एवं बिहार राज्य उच्चतर शिक्षा परिषद की उपनिदेशक डॉ अर्चना ने अपनी टीम के साथ चार घंटे तक रामदयालु सिंह महाविद्यालय के हर विभाग का निरीक्षण किया। कॉलेज में रुसा द्वारा वित्त प्रदत संपादित कार्यों का निरीक्षण एवं भौतिक सत्यापन किया गया। विदित हो कि कॉलेज को रूसा द्वारा वित्त प्रदत्त कंप्यूटर कक्ष, कंप्यूटर खरीद, तालाब का उन्नयन, कृष्ण सभा भवन का उन्नयन, उद्यान का निर्माण कार्य आदि का निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के बाद डॉ अर्चना ने कहा कि इस कॉलेज में विभिन्न कार्यों के लिए रुसा द्वारा दिए गए राशि का सदुपयोग किया गया है। भविष्य में महाविद्यालय को रूसा से और भी वित्तीय सहायता दी जाएगी। इसके बाद उन्होंने कला, विज्ञान और कॉमर्स संकाय के सैद्धांतिक और प्रायोगिक कक्षा के संचालन का अवलोकन किया। शिक्षकों की उपस्थिति पंजी, वर्ग में छात्रों की उपस्थिति, लाइब्रेरी, लैब, स्मार्ट क्लास, उद्यान, सेमिनार एवं सभा हॉल, इनडोर स्टेडियम, लैंग्वेज लैब, कंप्यूटर लैब की स्थिति और आधारभूत सुविधाओं सहित कई बिंदुओं पर उन्होंने पड़ताल की।

उन्होंने कहा कि यह नैक ग्रेडेड कॉलेज है। कॉलेज की व्यवस्था काफी बेहतर है। छात्रों का इस कॉलेज में नामांकन के लिए प्रयास रहता है। शिक्षक सिलेबस के अनुसार अपने को अपग्रेड करें और गुणवत्तापूर्ण शैक्षणिक माहौल बनाने में अपनी अग्रणी भूमिका निभायें। उन्होंने सभी विभागों के छात्र-छात्राओं से पढ़ाई के बारे में जानकारी ली। छात्रों ने बताया कि यहां वर्ग नियमित चलते हैं और हम लोग पढ़ाई से संतुष्ट रहते हैं। लाइब्रेरी के अध्ययन कक्ष एवं पुस्तकालय रजिस्टर का निरीक्षण किया गया। उन्होंने सलाह दिया कि पुस्तक खरीद एवं चयन कमेटी में छात्र एवं छात्राओं की भी सहभागिता होनी चाहिए। छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए सेमिनार, डिबेट, वर्कशॉप के साथ-साथ खेल के भी कार्यक्रम आयोजित होने चाहिए।

प्राचार्य डॉ अनीता सिंह ने कहा कि कॉलेज की संपूर्ण व्यवस्था को ठीक से चलाने के लिए शिक्षक एवं कर्मचारियों की कई कमिटियां बनाई गई है। कमेटी के सदस्य अपना काम तत्परता से कर रहे हैं। उपनिदेशक निरीक्षण के दौरान कॉलेज की व्यवस्था से संतुष्ट दिखीं। प्राचार्य ने बताया कि निरीक्षण के दौरान दिए गए सुझाव को अमल में लाया जाएगा। मौके पर सीसीडीसी डॉ अमिता शर्मा, उच्च शिक्षा विभाग के तकनीकी विशेषज्ञ मोहित पराशर, कॉलेज के शिक्षक कर्मचारी एवं छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

10 thoughts on “उच्च शिक्षा विभाग एवं बिहार राज्य उच्चतर शिक्षा परिषद ने रामदयालु सिंह महाविद्यालय का किया औचक निरीक्षण”
  1. We stumbled over here from a different web address and thought I might check things out.
    I like what I see so i am just following you. Look forward to exploring your web
    page repeatedly.

  2. Its like you read my mind! You seem to know a lot about this, like you wrote the book in it or something.

    I think that you can do with some pics to drive the message home a bit,
    but other than that, this is fantastic blog.
    A great read. I’ll certainly be back.

  3. I’m amazed, I must say. Rarely do I encounter a blog that’s both
    educative and entertaining, and let me tell you,
    you’ve hit the nail on the head. The issue is something that not enough people are speaking intelligently
    about. I am very happy that I found this in my hunt
    for something relating to this.

  4. Greetings I am so grateful I found your web site, I really found you by error,
    while I was looking on Google for something
    else, Anyhow I am here now and would just like to say thank you for a remarkable post
    and a all round exciting blog (I also love the theme/design), I
    don’t have time to read through it all at the minute but I have bookmarked it and also added in your
    RSS feeds, so when I have time I will be back to read a great
    deal more, Please do keep up the fantastic b.

  5. This is very interesting, You are a very skilled blogger.
    I have joined your rss feed and look forward to seeking more of your fantastic post.
    Also, I have shared your web site in my social networks!

  6. Good day! Do you know if they make any plugins
    to help with Search Engine Optimization? I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords but I’m
    not seeing very good results. If you know of any please share.
    Appreciate it!

  7. Everything is vdry opsn wih a ver clear description of tthe issues.
    It was really informative. Your sige iss very helpful.

    Thaanks for sharing!

  8. Your writing has a way of making even the most complex topics accessible and engaging. I’m constantly impressed by your ability to distill complicated concepts into easy-to-understand language.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *