https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर जिले के अहियापुर थाना के एसकेएमसीएच के समीप शनिवार को लूटपाट के दौरान पुलिस की गश्ती गाड़ी देखकर भाग रहे बाइक सवार दो अपराधी ओवरब्रिज की रेलिंग से टकरा गए। दोनों अपराधी करीब 24 फीट ऊंचे ओवरब्रिज से नीचे आ गिरे। इनको गंभीर स्थिति में एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान एक की मौत हो गई। दूसरे की हालत भी नाजुक है। घटना दोपहर करीब एक बजे घटी। मृतक चंदन सहनी अहियापुर के रसूलपुर सलेम का रहनेवाला था, जबकि घायल आयुष कुमार अहियापुर के फतेहपुर का रहनेवाला है। मौके से पुलिस ने लोडेड पिस्टल व बाइक बरामद की है। बाइक पर रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं था।

घटना के संबंध में बताया गया कि दोनों अपराधी पिस्टल की नोक पर ऑटो सवार महिला से लूटपाट कर रहे थे। इस दौरान पुलिस की गश्ती टीम सामने की ओर से आ रही थी। दोनों अपराधी बाइक घुमाकर भागने लगे। इस दौरान बाइक का संतुलन बिगड़ गया और ओवरब्रिज की रेलिंग से टकरा गई। इसके बाद दोनों ओवरब्रिज से फेंका गए। नीचे गिरने के बाद बेहोश हो गए। अहियापुर पुलिस ने दोनों को एसकेएमसीएच की इमरजेंसी में भर्ती कराया। मौके से पिस्टल भी मिली। दोनों के सीने, सिर व शरीर के अन्य अंगों में गंभीर चोट लगी थी।

थानेदार विजय कुमार सिंह बताया कि एक अपराधी की मौत इलाज के दौरान देर शाम हो गई, जबकि दूसरे का इलाज जारी है। राहगीर से लूटपाट कर रहे थे। पुलिस की गश्ती गाड़ी देखकर भागने का प्रयास किया। इस दौरान हादसे में दोनों ओवरब्रिज से गिर पड़े। मौके से दो गोली, एक पिस्टल व बाइक बरामद की गई है। जांच की जा रही है। दोनों अपराधियों का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है।



मॉब लिंचिंग की सूचना से हड़कंप

मॉब लिंचिंग में अपराधी की मौत की सूचना से हड़कंप मच गया। भीड़ की पिटाई से एक अपराधी की मौत की अफवाह से पुलिस परेशान रही। दो अपराधी बेहोशी की स्थिति में काफी देर तक मेडिकल ओवरब्रिज के नीचे पड़े रहे। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों की जांच की। उस वक्त उनकी सांस चल रही थी। इसके बाद आनन-फानन में एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया। अहियापुर थानेदार ने मॉब लिंचिंग व किसी तरह की पिटाई से इनकार किया है।

110 की स्पीड में भगाते थे बाइक

स्थानीय लोगों ने बताया कि दोनों अपराधियों को अक्सर मेडिकल ओवरब्रिज व आसपास की सड़कों पर 110 की स्पीड से बाइक भगाते देखा जाता था। दोनों की उम्र बीस से 25 साल बताई गई। घटना के बाद ऑटो सवार राहगीर सामने नहीं आए। ऑटो में महिला भी थी।

छह दिनों में दो अपराधियों की मौत

जिले में छह दिनों में दो अपराधियों की मौत हो गई। 13 सितंबर सोमवार को मोतीपुर में बैंक लूट के दौरान पुलिस मुठभेड़ में एक अपराधी की मौके पर मौत हो गई, जबकि गोली लगने से तीन अपराधी जख्मी हो गए। इस घटना के छठे दिन शनिवार की दोपहर अहियापुर में लूटपाट के दौरान हादसे में एक अपराधी की मौत हो गई।

Input : live hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *