0 0
Read Time:4 Minute, 0 Second

दार्जिलिंग, 05 मई: पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में गुरुवार को केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला बोला। अमित शाह ने यहां रेलवे इंस्टीट्यूट ग्राउंड में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने ममता सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि राज्य के लिए बीजेपी अपनी लड़ाई जारी रखेगी। रैली में अमित शाह ने कहा कि ममता दीदी आपको 3 बार चुनने के बाद भी आप नहीं सुधर रही हैं, जब तक आप बंगाल की जनता पर अत्याचार, भ्रष्टाचार, कटमनी और सिंडिकेट का राज खत्म नहीं करेंगी, तब तक भाजपा अपनी लड़ाई चालू रखेगी।

वहीं बीरभूम मामले की जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि देशभर में कुछ भी होता है तो ममता दीदी टीएमसी का डेलीगेशन भेजती हैं। दीदी, बीरभूम में 8 महिलाओं और 1 बच्चे को जिंदा जला दिया गया, वहां आपने डेलीगेशन क्यों नहीं भेजा? बीरभूम वाले आपके लोग नहीं हैं क्या? शाह यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा, ‘ममता दीदी ने बंगाल को आर्थिक रूप से कंगाल कर दिया है। 1947 में बंगाल का देश की जीडीपी में 30% हिस्सा था, जो 2022 में घटकर 3.3% कर दिया गया। ममता दीदी क्या आप बंगाल की जनता को जवाब देंगी?

सीएए पर शाह का बड़ा बयान

सीएए के मुद्दे पर शाह ने कहा कि टीएमसी सीएए के बारे में अफवाहें फैला रही है कि इसे धरातल पर लागू नहीं किया जाएगा, लेकिन मैं यह कहना चाहूंगा कि हम सीएए को जमीन पर लागू करेंगे, जैसे ही कोविड की लहर समाप्त होगी…ममता दीदी घुसपैठ चाहती हैं…सीएए था, है और एक वास्तविकता होगी।

गृह मंत्री अमित शाह ने ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पूरे देश में बिजली का दाम सबसे ज्यादा बंगाल में हैं। देश में पेट्रोल का दाम 115 रुपए अगर कहीं है तो बंगाल में है। जहां बीजेपी की सरकार है वहां पेट्रोल 105 रुपए में मिलता है।… आज भी यहां के गरीबों को आयुष्मान भारत योजना का फायदा नहीं मिलता है।

अमित शाह को ममता बनर्जी का जवाब

सीएम ममता बनर्जी ने गृह मंत्री अमित शाह के बयानों का पलटवार किया। उन्होंने अपने बयान में कहा कि वो गृह मंत्री है इसलिए उनको दिल्ली देखना चाहिए। दिल्ली के जहांगीरपुरी, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में क्या हुआ, उनको वो देखना चाहिए। उनके पास बंगाल नहीं है इसलिए बंगाल के बारे में उन्हें ऐसी बात नहीं करनी चाहिए। बीजेपी का काम विभाजन पैदा करना है।

वहीं सीएए के मुद्दे पर ममता बनर्जी ने कहा कि सीएए बिल समाप्त हो गया है। वे इस विधेयक को संसद में क्यों नहीं ला रहे हैं? मैं नहीं चाहती कि नागरिकों के अधिकारों पर अंकुश लगे। हम सभी को एक साथ रहना है, एकता हमारी ताकत है। आज, वह ( अमित शाह) यहां बीएसएफ की राजनीतिक क्षेत्र में घुसपैठ करने आए थे।

Source : oneindia.com

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: