0 0
Read Time:2 Minute, 42 Second

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ मोर्चा खोलने वालीं मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा अब राजनीतिक पारी की शुरुआत करने जा रही हैं. सुमैया राणा समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर रही हैं.

लखनऊ के घंटाघर पर सीएए विरोधी प्रदर्शन में मुख्य भूमिका में रहीं सुमैया राणा लगातार राज्य की योगी सरकार के खिलाफ आवाज उठाती रही हैं. खासकर, दिसंबर 2019 में जब से देश की संसद से नागरिकता से जुड़ा नया कानून लाया गया है तब से ही वो केंद्र की मोदी और यूपी की योगी सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करती रही हैं. उनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई भी की गई है.

सीएए के विरोध में यूपी में कई जगह हिंसक प्रदर्शन भी हुए थे जिनमें काफी लोगों के खिलाफ केस दर्ज किए गए उन्हें जेल भेजा गया.

संपत्तियां भी कुर्क की गईं. सुमैया राणा के खिलाफ भी मुकदमे दर्ज हो चुके हैं. इसी साल नवंबर महीने में उन्हें घर में नजरबंद भी किया गया था. अब जबकि यूपी में 2022 के विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोर पकड़ रही हैं तो सुमैया राणा ने समाजावादी पार्टी के साथ जाकर राजनीतिक पारी शुरू करने का फैसला किया है.

बसपा से पूर्व नेता भी सपा के साथ

बसपा से निष्कासित दो नेता भी आज समाजवादी पार्टी में शामिल हो रहे हैं. ज्वाइन करने वाले ये नेता पूर्व विधायक रमेश गौतम और मसूद खां हैं. ये दोनों नेता सपा मुख्यालय लखनऊ में सदस्यता कार्यक्रम में शिरकत कर औपचारिक तौर पर पार्टी के साथ जुड़ जाएंगे. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी इस दौरान मौजूद रहेंगे.

बसपा से इन दोनों नेताओं को पार्टी विरोधी गतविधियों के चलते निष्कासित कर दिया गया था. पार्टी से निकालने के बाद करीब 100 बसपा पदाधिकारियों व सैकड़ों कार्यकताओं ने सामूहिक इस्तीफा दिया था.

इनपुट : आज तक

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: