https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर । मैरेज ब्यूरो पर खुद को कुंवारा बता नगर थाना के चंदवारा निवासी समीर अहमद ने यूपी के प्रयागराज की एक युवती से एक लाख 49 हजार रुपये की ठगी कर ली। जबकि उसकी शादी सात साल पहले हो चुकी है। वह तीन बच्चों का पिता भी है। युवती से उसने खुद को सउदी अरब में इंजीनियर बताया था। रुपये की ठगी के बाद जब उसने बातचीत बंद कर दी तो युवती के स्वजन को संदेह हुआ। रविवार को युवती के स्वजन नगर थाना के नबाव रोड चंदवारा स्थित युवक के घर पहुंचे तो मामला सामने आया। इसके बाद उसके स्वजन ने नगर थाना पहुंच कर आवेदन दिया।

यह है मामला

युवती के पिता ने बताया कि बेटी इलाहाबाद विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर पास है। पिछले साल उसने एक आनलाइन मैरेज ब्यूरो पर अपनी विवरणी डाली थी। कुछ दिन बाद समीर अहमद ने भी विवरणी डाली। उसने खुद को सउदी अरब में इंजीनियर बताया। उनकी बेटी से शादी का प्रस्ताव रखा। इसे उनलोगों ने स्वीकार कर लिया। इसके बाद उनकी बेटी से समीर की बातचीत होने लगी। यह काफी दिनों तक चली। जब उसे कहा गया कि शादी की बात आगे बढ़ाइए तो उसने कहा कि वह जनवरी 2022 में घर आ रहा है।

वह मां व अन्य स्वजन को लेकर आएगा। इस क्रम में दो माह बीत गए। इस साल मार्च में समीर दो बार प्रयागराज स्थित उसके घर आया। उसपर स्वजन को लेकर आने का दबाव बनाया गया तो टालमटोल करता रहा। इस बीच समीर ने युवती से कहा कि उसका सउदी अरब के बैंक का खाता बंद हो गया है। वह इस समय दिल्ली में है। उसे रुपये की सख्त जरूरत है। युवती ने चंदवारा के एक बैंक की शाखा के खाते में कई बार रुपये ट्रांसफर किए। कुछ दिनों बाद कहा कि उसके पास रुपये नहीं है। वह उसकी भाभी के बैंक खाता में रुपया डाल दे। वह भाभी से जाकर रुपये ले लेगा। इस खाता में रुपये भेजने के कुछ दिनों बाद ही उसने बातचीत बंद कर दी। इसके बाद युवती के स्वजन को संदेह हुआ।

स्वजन ने मुश्किल से खोला दरवाजा : युवती के माता-पिता व अन्य स्वजन रविवार को समीर के आवास पर पहुंचे। बड़ी मुश्किल से उसके स्वजन ने दरवाजा खोला। उसकी मां, चाचा व मौसी ने बताया कि समीर शादीशुदा व तीन बच्चों का पिता है। जिस महिला को भाभी बताकर खाता में रुपया मंगाया था, वह खाता उसकी पत्नी का है। युवती के पिता ने बताया कि समीर के स्वजन ने पुलिस बुलाकर जेल भेजवाने की धौंस देने का भी प्रयास किया, जब उन्होंने इसका विरोध किया तो सभी चुप हुए।

इनपुट : जागरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *