https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुरः जिले में महीने भर के अंदर दोबारा बाढ़ का कहर देखने को मिल रहा है. जिले के औराई प्रखंड के कई गांव फिर से बाढ़ की चपेट में आ गए हैं. नदियों में उफान जारी है. इसी बीच एक से लेकर आठवीं कक्षा तक के स्कूल खुल चुके हैं जिससे बच्चे जान जोखिम में डालकर स्कूल जाने के लिए मजबूर हैं. औराई में सड़कें डूब चुकी हैं. पीपा पुल भी पानी में बह गया है. ऐसे में बच्चे नाव पर सवार होकर उफनाई नदियों को पार कर स्कूल जा रहे हैं.


नाव से स्कूल जाना खतरे से खाली नहीं


बताया जाता है कि लखनदेई और मनुषमारा नदी में उफान के कारण गांव में दूसरी बार बाढ़ की स्थिति उतपन्न हो गई है. ऐसे में नाव पर सवार होकर बच्चों का स्कूल जाना खतरे से खाली नहीं है. एक परिजन रीता देवी ने कहा कि एक ही नाव है. इसी पर सवार होकर बच्चे स्कूल जाते हैं. गांव के लोग भी काम के सिलसिले में जाते हैं. कभी-कभी नाव नहीं रहती है तो बच्चे स्कूल नहीं जा पाते हैं. कुछ बच्चों को नाव पर सवार होकर जाने में डर भी लगता है, इसके बावजूद नाव से ही स्कूल जाने को विवश हैं.


वहीं, दूसरी ओर बच्चों के नाव पर सवार होकर स्कूल जाने का मामला जब प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी रिमी सिन्हा के पास पहुंचा तो उन्होंने तत्काल इसपर रोक लगाई. उन्होंने कहा कि बच्चों को नाव से स्कूल नहीं बुलाना है. बाढ़ प्रभावित इलाके के बच्चे स्कूल नहीं आएंगे. सभी प्रधानाध्यापकों को इससे अवगत कराया है. कहा कि किसी भी हाल में बच्चों को स्कूल नहीं बुलाएं. सभी शिक्षकों से भी कहा है कि बच्चों के परिजनों को भी इससे अवगत करा दिया जाए

Source : abp news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *