https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर में शराब कारोबार और अवैध संबंध के कॉकटेल में एक ऐसा धमाका हुआ जिसने शहर को दहला दिया। इस वारदात ने पुलिस को भी सोचने के लिए मजबूर कर दिया है। घटना नगर थाना क्षेत्र के बालू घाट इलाके की है जहां बीती रात एक बंद फ्लैट में जोरदार विस्फोट हुआ।

घर में फैले थे हाथ पैर के टुकड़े

विस्फोट घर में आग बुझाने फायर ब्रिगेड की टीम जब पहुंची तो जवानों और अधिकारियों के होश उड़ गए। क्योंकि मौके पर आग कम और लाश के टुकड़े ज्यादा थे। इन टुकड़ों को देखकर फायर ब्रिगेड ने तत्काल नगर थाना पुलिस को सूचित किया। नगर थाने की पुलिस जब मौके पर पहुंची और हकीकत धीरे-धीरे बाहर आने लगी तो मोहल्ले में खलबली मच गई। क्योंकि जिस घर में विस्फोट से आग लगी थी उसके भीतर एक इंसान के हाथ पैर और सर के टुकड़े कूड़े करकट की तरह फैले हुए थे।

सुभाष ने पार्टनर की फरारी का फायदा उठाकर उसकी पत्नी को प्रेम-जाल में फंसाया

तफ्तीश के आईने से हकीकत की जो तस्वीर उभरी है वह चौंका देने वाली है। यह वाकया एक शराब माफिया का अपने पार्टनर की पत्नी के साथ अवैध संबंध और पकड़े जाने पर खूनी इंतकाम की दास्तान है। नगर थाना के बालू घाट इलाके में सुभाष कुमार और राकेश कुमार नाम के दो शराब माफिया रहते थे। दोनों की जोड़ी पुलिस के लिए सर दर्द बनी हुई थी क्योंकि लाख दबिश के बावजूद इनका कारोबार थम नहीं रहा था। करीब दो माह पहले राकेश के ठिकाने से पुलिस ने शराब पकड़ी गयी तो राकेश पुलिस से बचने के लिए फरार हो गया। राकेश लगभग तब से अपने घर भी नहीं आता था। घर में उसकी बीवी राधा अकेली थी जिसकी देखभाल के लिए राकेश का पाटनर सुभाष आया जाया करता था। आने-जाने के सिलसिले में सुभाष और राकेश की पत्नी राधा एक दूसरे के करीब आ गए। राधा और सुभाष इतने करीब आ गए कि उन्हें अपने बीच में राकेश भी खटकने लगा। इधर सुभाष ने भी अपने इस रिश्ते को परिवार वालों की जानकारी से बचाने के लिए सुनील कुमार शर्मा के आलीशान भवन में एक फ्लैट किराए पर ले लिया। सुभाष ने बताया था कि उसके घर में पानी भर गया है इसलिए यह फ्लैट किराए पर लिया है। सुभाष की बीवी या बच्चे उस फ्लाइट में 1 दिन भी नहीं आए।



हथौड़ी और चाकू से हमला कर मार डाला

स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, करीब 5 दिन पहले राकेश छुपते छुपाते अपने घर पहुंचा। उसके घर में पत्नी नहीं मिली। राकेश चुपके से सुभाष के नए ठिकाने पर पहुंच गया। यहां के हालात देखकर उसकी आंखें फट गई क्योंकि राकेश की पत्नी राधा सुभाष के साथ मौजूद थी। इस बात पर दोनों के बीच बकझक हो गई। विवाद इतना बढ़ गया सुभाष ने हथौड़ी से राकेश पर अंधाधुंध बार करके उसकी जान ले ली। एफएसएल की टीम ने घटना स्थल से हथौड़ी और चाकू बरामद किया है।

मृतक के शव के कर दिए कई टुकड़े

राकेश के परिजनों के मुताबिक उसके हत्या की साजिश में पत्नी राधा भी शामिल है और हत्या के वक्त पर सुभाष तक साथ दे रही थी। मृतक की मामी रिंकु और बहन जुली ने सुभाष और राधा के अवैध संबंध का खुलासा किया। जब राकेश ने दम तोड़ दिया तो लाश को ठिकाने लगाना चुनौती बन गई क्योंकि मोहल्ला बहुत घना है। इसलिए दोनों ने मिलकर बेरहमी से राकेश के लाश के टुकड़े-टुकड़े कर दिए। उसके हाथ पांव और सर को अलग कर दिया। लाश के टुकड़ों को केमिकल से जला देने के लिए दरिंदों ने उसे एक प्लास्टिक के ड्रम में भर दिया। आसानी से डेड बॉडी गल जाए इसके लिए नीचे नमक और ऊपर से केमिकल डालकर ड्रम को बंद कर दिया। इस वारदात को अंजाम देने के बाद कमरे में ताला लगाकर सुभाष और राधा फरार हो गए।

केमिकल से गैस फॉर्म होने पर हुआ विस्फोट-एसएसपी

जांच टीम को लीड कर रहे एसएसपी जयंतकांत ने बताया शव तीन चार दिन पुराना लग रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि घटना चार-पांच की है क्योंकि सुभास और राधा नही देखे जा रहे थे। लेकिन शनिवार की रात सुभाष के फ्लैट में जो धमाका हुआ उसने पूरे राज को उगल कर रख दिया। कहते हैं कि खूनी कोई न कोई गलती भी कर देता है। यही गलती सुभाष ने भी किया। उसने शव को गलाने के लिए जिस केमिकल का उपयोग किया था उसका नमक के साथ रिएक्शन होता है। एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि नमक और केमिकल साथ मिलने से ड्रम में गैस तैयार हो गई और उसकी वजह से ब्लास्ट हो गया। शनिवार रात हुई इस घटना की तफ्तीश रविवार दिन भर चलती रही। एफएसएल की टीम के साथ एसएसपी जयंत कांत खुद मौके पर मौजूद रहे और उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश देते रहे। इधर मृतक के घर में चीख-पुकार मची है।

Input : Live hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *