0 0
Read Time:4 Minute, 20 Second

बिहार (Bihar) के भोजपुर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र में हैवानियत का रूह कंपा देने वाला मामला सामने आया है. थैले में बेटी के पैर लेकर थाने पहुंचे लाचार पिता की कहानी जिसने सुनी सिहर उठा. पिता रो-रोकर सिर्फ यहा कह रहा था- बिटिया कहती थी, पापा मुझे यहां से ले जाओ, लेकिन मैं उसे बचा नहीं पाया. जब तक उसके पास पहुंचा वो राख हो चुकी थी, सिर्फ पैर बचा था. पिता ने बताया कि उसने अपनी बेटी के पायल और बिछिया से पहचाना. फिलहाल पुलिस (Bihar Police) ने मृतका के पैरों के लेकर जांच के लिए भेज दिया है. वहीं आरोपी ससुराल वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस के अनुसार अभी आरोपी फरार हैं, तलाश की जा रही है.

एक साल पहले हुई थी शादी

दरअसल बिहार के भोजपुर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के बभनगावां गांव के रहने वाले अखिलेश बिंद ने अपनी बेटी ममता की शादी मई 2021 में मुफस्सिल थाना क्षेत्र के बरौली गांव निवासी शत्रुघ्न बिंद के साथ की थी. ममता के मामा ने ही यह शादी कराई थी. मृतका के पिता अखिलेश बिंद अपनी पत्नी के साथ गुजरात के राजकोट में रहकर अपना काम करते हैं. वहीं बेटी गांव में मामा के साथ ही रहती थी.

बेटी का पैर लेकर थाने पहुंचा पिता

आरोप है कि शादी के कुछ महीने बाद से ही ससुरालवालों ने ममता के सामने एक लाख रुपए की डिमांड रख दी. पैसा देने से मना करने पर मारपीट कर प्रताड़ित किया जाने लगा. पिता अखिलेश बिंद ने बताया कि ममता को बीते सोमवार की रात उसके ससुरालवालों ने जलाकर मार डाला था. सूचना पर पहुंचे अखिलेश को सिर्फ अपनी बेटी के पैर मिले. उन्होंने उसे पायल और बिछिया से पहचाना. जिसके बाद पैर को थैले में रखकर वह थाने पहुंचे और बेटी के ससुरालवालों को सजा दिलाने की मांग की. मृतका के पिता ने पुलिस को सुसराल वालों के खिलाफ तहरीर दे दी है. जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है.

ममता ने बताया था, सब बहुत मारते हैं

ममता के बड़े मामा बिगन बिंद ने भी बताया कि उसने अपनी मौसी से कहा था कि उसके पति और ससुर राम प्यारे पैसे मांग रहे हैं और रोज मारते रहते हैं. उन्होंने कहा कि हम लोग पैसे नहीं दे पाए इसलिए ममता की जलाकर हत्या कर दी.

पैर के हिस्से को डीएनए टेस्ट के लिए भेजा

इस बाबत भोजपुर के एएसपी हिमांशु ने बताया कि पिता की तहरीर पर आरोपी पति शत्रुघ्न बिंद और ससुर राम प्यारे बिंद के खिलाफ दहेज हत्या में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई हे, तलाश की जा रही है. उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि विवाहिता के शव को चांदी थाना के सारिपुर-विशुनपुर में सोन नदी घाट के पास पहले बालू में गाड़ा गया इसके बाद शव को फिर निकाकर उसे जलाया गया. एएसपी ने बताया कि बाएं पैर का थोड़ा हिस्सा बचा था, जिसे लेकर मृतका के पिता थाने पहुंचे थे. जिसके बाद गुरुवार को उसको डीएनए टेस्ट के लिए भेज दिया गया है.

Source : Tv9 bharatvarsh

Advertisment

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: