https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने ट्विटर इंडिया को नोटिस जारी कर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एनसीपीसीआर ने ट्विटर इंडिया से कहा कि राहुल गांधी ने दुष्कर्म और हत्या की गई नौ साल की मासूम बच्ची के माता-पिता की तस्वीरें अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से पोस्ट करके पोक्सो एक्ट का उल्लंघन किया है।

एनसीपीसीआर के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो ने ट्विटर इंडिया से राहुल गांधी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। प्रियांक ने कहा कि बच्ची के माता-पिता की तस्वीरें सार्वजनिक रूप से साझा करना अपराध है और यह सीधा-सीधा पोक्सो अधिनियम का उल्लंघन है। बता दें कि दिल्ली के नांगला में नौ वर्षीय बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में एनसीपीसीआर ने स्वतः संज्ञान लिया है। एनसीपीसीआर ने दक्षिण पश्चिम दिल्ली के डीसीपी को पत्र लिखकर इस मामले में एक विस्तृत रिपोर्ट 48 घंटे के अंदर मांगी है।

राहुल गांधी ने परिजनों को दिलाया न्याय का भरोसा
मंगलवार को जहां पीड़ित बच्ची के परिजनों से मिलने के लिए कई पार्टी के नेता वहां पहुंचे, वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार सुबह ही पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। उन्होंने परिवार के लोगों को अपनी ही गाड़ी में बिठाकर बात की। यह मुलाकात दस मिनट से भी ज्यादा समय की रही। परिवार से मिलने के बाद राहुल गांधी ने कहा कि मैंने परिवार से बात की और उन्हें सिर्फ न्याय चाहिए और कुछ नहीं। वह कह रहे हैं कि उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है, उनकी मदद की जानी चाहिए। हम वह करेंगे। मैंने उन्हें बताया है कि मैं उनके साथ खड़ा हूं। राहुल गांधी तब तक उनके साथ खड़ा है जब तक कि उन्हें न्याय नहीं मिल जाता।

क्या है मामला
श्मशान भूमि के पुजारी ने बच्ची को करंट लगने से बच्ची की मौत होने की बात कही और परिजनों को ये कहकर डराया कि पोस्टमार्टम होने से उसके अंगों की चोरी हो सकती है। ये बातें कहकर पुजारी ने आनन-फानन में शव का अंतिम संस्कार करवा दिया। देर रात परिजनों के हंगामा करने पर पुलिस को घटना की जानकारी मिली और पुलिस ने बच्ची की मां के बयान पर पुजारी सहित अन्य लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या, साक्ष्य को छुपाने सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया। पुलिस पुजारी सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले की छानबीन में जुटी है।

इनपुट : अमर उजाला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *