मुजफ्फरपुर, जिला स्तरीय फरोग-ए-उर्दू सेमिनार, कवि सम्मेलन-सह-कार्यशाला का आयोजन जिला उर्दू भाषा कोषांग, समाहरणालय, मुजफ्फरपुर के तत्वाधान में बुधवार को आम्रपाली आॅडोटोरियम में हुआ। कार्यक्रम का उद्घाटन प्रणव कुमार जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर एवं उप निदेशक माध्यमिक शिक्षा-सह-अध्यक्ष बिहार स्टेट मदरसा ऐजुकेशन बोर्ड, द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर के किया गया।

उर्दू है तो अमन है, उर्दू है तो नफासत है। इस मौके पर जिलाधिकारी महोदय ने उक्त बाते कहते हुए कही कि उर्दू भाषा किसी एक मजहब की भाषा नहीं, बल्कि हर मजहब में वोली जाने वाली मीठी भाषा है। उर्दू भाषा के क्षेत्र में रोजगार के बहुत अवसर एवं इसकी तरक्की के लिए जिला स्तर पर हर संभव सहयोग प्रदान किया जा रहा है।

इस मौके पर अध्यक्ष मदरसा वोर्ड ने कहा कि मदरसा में आधुनिक शिक्षा के बढ़ावा का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमती शहला मुस्तफा वरीय उप समाहर्ता-सह-प्रभारी पदाधिकारी जिला उर्दू भाषा कोषांग एवं संचालन वैसुर रहमान अंसारी, सहायक, कोषागार पदाधिकारी-सह-जिला लेखा पदाधिकारी द्वारा किया गया।

शहला मुस्तफा ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा की उर्दू बिहार की दूसरी सरकारी भाषा है। उर्दू भाषा की विकास के लिए यह कोषांग लगातार कार्य कर रही है एवं 24 छात्र /छात्राओं को सही उर्दू तल्फफुज अदा करने के लिए तय शुदा रकम एवं प्रशस्ति पत्र एवं तमगा से नवाजा गया है। इन तमाम प्रोग्रामों का असल मकसद यह है कि उर्दू जैसी तहजीब की जुबान को ज्यादा से ज्यादा फरोग हासिल हो सके। कार्यक्रम में मशहुर शायरों एवं कवियों ने अपने अपने जलवे बिखेरे । इस मौके पर मतीउर रहमान ने इस आयोजन मकसद पर विस्तुत से प्रकाश डालते हुए कहा कि अपने बच्चों को भी उर्दू भाषा का ज्ञान दे।

कार्यक्रम में प्रो0 सैयद अबुजर कमालुउदीन, पूर्व उपाध्यक्ष, बिहार इंटरमीडिएट कोसिल, प्रो0 फारूक अहमद सिदीकी , कैसर आलम, सचिव मिल्ली , सीनियर सिटीजन काउसील, मुजफ्फरपुर, मो0 रफी, कनवेनर (कौमी असातजह तजीम बिहार, मुजफ्फरपुर, हसन रजा, शिबगतुल्लाह हमीदी, डा0 जलाल असगर फरीदी, महफुज आरिफ, एम आर, चिश्ती , पंकज कर्ण, डा0 आरती कुमारी, ताहिरउदीन ताहिर, नेमतुल्लाह नेमत ने अपने अपने विचार रखे एवं गजल ,शेर पढें। प्रो0 अल्तमश दाउदी , अध्यक्ष , शफी दाउदी फाउडेंशन ने कहा कि मै अपने स्कुल में अन्य भाषाओं के साथ सभी समुदाय के बच्चों को कई का भी तालीम देता हूँ। इस मौके पर जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी श्री दिनेश कुमार एवं जिला अल्पसंख्या पदाधिकारी बैधनाथ प्रसाद उपस्थित थे।

3 thoughts on “जिला स्तरीय फरोग-ए-उर्दू सेमिनार, कवि सम्मेलन-सह-कार्यशाला का आयोजन”
  1. After all, what a great site and informative posts, I will upload inbound link – bookmark this web site? Regards, Reader. Seo Hizmeti Skype : live:by_umut

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *