https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

बिहार में महिलाओं की सुरक्षा (Girls Safety) के मसले पर एक बार फिर से गंभीर सवाल खड़े हुए हैं. राजधानी पटना से सटे मनेर इलाके में लड़कियों ने लफंगों (Miscreants) के कारण स्कूल जाना छोड़ दिया है. मनेर के ब्यापुर राजकीय मध्य विद्यालय में लफंगों का इस कदर खौफ है कि बच्चियां उनके डर से स्कूल तक नहीं जा रहीं. और तो और बच्चियों ने स्कूल जाना छोड़ा तो मनचलों ने शिक्षिकाओं को निशाना बनाया ऐसे में अब वो भी लफंगों की फब्तियों से परेशान हैं. इलाके में लफंगों का डर इस कदर है कि उनके डर की वजह से ना तो स्थानीय लोग इस मामले में पडतें है और ना ही कोई प्रतिनिधि.

यही कारण है की छात्राएं और महिला शिक्षक परेशान हैं और लड़कियों ने तो स्कूल आना ही बंद कर दिया है लेकिन महिला शिक्षकों की मजबूरी है कि उन्हें स्कूल जाना पड़ता है. उन्होंने अपने स्कूल के प्रधानाचार्य को जब इसकी सूचना दी तो उन्होंने मनेर थाना में लिखित शिकायत दर्ज की है. शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने गश्ती के दौरान मामले की जांच की तो लफंगे पुलिस की जीप देखकर ही फरार हो जातें हैं.

स्कूल के प्रधानाचार्य राज कुमार ने लफंगों के खिलाफ स्थानीय थाना में लिखित शिकायत दर्ज कराई है. प्रधानाचार्य का कहना हैं कि शिक्षिकाओं की संख्या 9 है वहीं स्कूल में छात्रों की संख्या 700 के आसपास है. स्कूल आने वाली छात्राओं को स्कूल के आसपास लफंगा टाइप के युवक गंदी-गंदी फब्तियां कसते हैं साथ ही शिक्षिकाओं को देखकर भी अश्लील गाने गाते हैं, जिनसे छात्राए एवं शिक्षिका दोनों ही परेशान रहती हैं. इन लफंगों से परेशान होकर कुछ छात्राओं ने स्कूल आना बंद कर दिया हैं.

इस सम्बंध में थानाध्यक्ष आलोक कुमार ने बताया की प्रधानाचार्य की ओर कुछ लफंगों की हरकतों को लेकर शिकायत दर्ज कराई गई है. पुलिस सभी मामलों पर जांच में जुट गई हैं और जल्द ही सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा. स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि इस जगह पर नशेड़ियों का अड्डा बन हुआ जो कि सारा दिन नशा करते रहते हैं. इनकी वजह से ग्रामीण भी परेशान रहते हैं और अब तो इनलोगों की हरकतें इस तरह से बढ़ गई है कि स्कूल आने वाली छात्राओं पर भी फब्तियां कस रहे हैं.

Source: Live Hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *