https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

Sidhu Moosewala Murder News update: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के मर्डर की जांच अभी जारी है. इस मर्डर केस के आरोपी लॉरेंस विश्नोई एक तरफ जहां कड़ी सुरक्षा के बीच पंजाब ले जाया गया है वहीं दूसरी ओर उसके पुराने कारनामों की कलई लगातार खुल रही है. दरअसल पुलिस जांच में ये पता चला है कि दिल्ली की अति सुरक्षित तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद लॉरेंस विश्नोई (Lawrence Bishnoi ) कनाडा (Canada) में बैठे गोल्डी बरार (Goldy Barar) के लगातार संपर्क में था.


फोन पर बराबर होती थी बात
ZEE NEWS को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई तिहाड़ जेल में लगातार फोन का इस्तेमाल करता था. जेल से फोन के जरिए वो गोल्डी बरार से बात करता था कि कब किसको धमकी देना है, किससे कितनी रंगदारी वसूलनी है या किस पर गोली चलवानी है ये सब कुछ फोन पर ही लारेंस और गोल्डी आपस में तय कर लेते थे. सिद्धू मूसावला के मर्डर के 2 महीने पहले तक जेल में बंद लारेंस की कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ से बातचीत हो रही थी.

रंगदारी मामले में ड्रग माफिया का रोल
पंजाब के सबसे बड़े गैंगस्टर में से एक और पंजाब का बड़ा ड्रग माफिया जग्गू भगवानपुरिया भी तिहाड़ जेल में लॉरेंस के साथ बंद था. भगवानपुरिया को हाल ही में जेल से दिल्ली पुलिस ने अपनी कस्टडी में लिया था. पुलिस की पूछताछ में उसने कहा, ’22 फरवरी तक लॉरेंस और मैं एक साथ बंद थे. जहां लगातार कनाडा में बैठे गोल्डी का फोन तिहाड़ में लारेंस और मेरे पास आता था और हमारी बात होती थी. बाद में हमें अलग-अलग जेल में बंद कर दिया गया था.’


पाकिस्तान से आई थीं 50 पिस्टल
जग्गू भगवानपुरिया ने ये खुलासा भी किया कि गोल्डी ने उसके लिए एक बार पाकिस्तान से 50 पिस्टल मंगवाई थीं जो शूटरों में बांटी जानी थी लेकिन पुलिस ने उस कंसाइनमेंट को पकड़ लिया था. गोल्डी ही पंजाब में हथियारों की सप्लाई करवाता है. जेल में लगातार फोन के इस्तेमाल की जानकारी मिलने के बाद लॉरेंस बिश्नोई को मार्च 2022 में जेल नम्बर 8 में शिफ्ट कर दिया गया था. आपको बता दें कि लॉरेंस बिश्नोई जून 2021 से तिहाड़ जेल में बंद था.

Source : Zee News

Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *