0 0
Read Time:5 Minute, 53 Second

बिहार के नवादा जिले से लगी अंतरराज्यीय सीमा पर स्थित रजौली चेकपोस्ट पर झारखंड की ओर से आ रही एक तेल टैंकर से शराब की एक बड़ी खेप बरामद की गयी। घटना मंगलवार की सुबह की बतायी जाती है। चेकपोस्ट पर तैनात उत्पाद विभाग के अधिकारियों ने टैंकर को जांच के लिए रोका। परंतु ड्राइवर द्वारा टैंकर खाली होने का बहाना बनाकर वहां से निकलने की कोशिश की गयी। इस बीच जवानों ने बैरियर लगाकर उसे रोक लिया और टैंकर का ढक्कन खोलकर देखा तो उसमें बने तहखाने में शराब पायी गयी। टैंकर की सघनता से जांच की गयी। इस दौरान टैंकर बने चार में से दो तहखानों में 201 कार्टन विदेशी शराब बरामद की गयी।

उत्पाद विभाग के अधिकारियों के मुताबिक शराब की कीमत खुले मार्केट में करीब 25 लाख आंकी गयी है। मौके से टैंकर के ड्राइवर व खलासी को गिरफ्तार कर लिया गया। अधिकारियों के मुताबिक ड्राइवर की पहचान सीवान जिले के जामो बाजार थाना क्षेत्र के खोरी पाकर गांव के राम आनंद गिरी के बेटे जितेंद्र कुमार गिरी व खलासी बेगूसराय जिले के तेघड़ा थाना क्षेत्र के तेघड़ा गांव के राम दयाल सिंह के बेटे चिंटू कुमार के रूप में की गयी है। ट्रैंकर नंबर बीआर 09 सी 7821 जब्त कर ली गयी है। हालांकि टैंकर के भीतर से एक अन्य नंबर प्लेट बरामद हुआ है, जिस पर जेएच 05 एटी 7527 नंबर अंकित है। जांच अभियान में एएसआई नागेश कुमार, मोहम्मद जाकिर हुसैन सहित सैप बल एवं गृह रक्षक बल के जवान शामिल थे।

टैंकर पर लिखा है इंडियन ऑयल

अधीक्षक मद्य निषेध अनिल कुमार आजाद के निर्देश पर रजौली चेकपोस्ट पर तैनात उत्पाद निरीक्षक रामप्रीति कुमार के नेतृत्व में सुबह चेकपोस्ट पर झारखंड की ओर से आने वाले वाहनों की सघन जांच की जा रही थी। इसी बीच इंडियन ऑयल का एक तेल टैंकर आता हुआ दिखाई दिया। जिसकी जांच में शराब बरामद की गयी। टैंकर के भीतर से रॉयल स्टैग व मैकडॉवेल ब्रांड के 201 कार्टन से 5545 बोतल शराब बरामद की गयी। बरामद की गयी शराब की कुल मात्रा 1799 लीटर बतायी जाती है। बरामद शराब में रॉयल स्टैग ब्रांड के 375 एमएल व 180 एमएल की 148 कार्टन से 1322 लीटर शराब बरामद की गयी। जबकि मैकडॉवेल ब्रांड के 375 एमएल की 53 कार्टन से 477 लीटर शराब बरामद की गयी।

मुजफ्फरपुर ले जायी जा रही थी शराब

अधिकारियों से पूछताछ में ड्राइवर व खलासी ने बताया कि शराब शराब झारखंड के डुमरी में टैंकर में लोड की गयी थी। इसकी डिलीवरी बिहार के मुजफ्फरपुर में देनी थी। ताजा जानकारी मिलने तक उत्पाद विभाग की टीम ड्राइवर व खलासी से पूछताछ कर शराब माफिया की जानकारी लेने में जुटी है। उत्पाद टीम शराब के बैकवार्ड व फारवर्ड लिंकेज पर शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है। अधीक्षक मद्य निषेध ने बताया कि जांच चल रही है। मामले में शामिल शराब माफियाओं का पता लगाया जा रहा है,ताकि उन पर कार्रवाई की जा सके।

बड़ी कार्रवाई से माफियाओं में हड़कंप

चेकपोस्ट पर उत्पाद विभाग की टीम द्वारा की गयी बड़ी कार्रवाई से शराब माफियाओं में हड़कम्प मच गया है। बता दें कि पिछले कुछ महीनों से चेकपोस्ट पर सिर्फ शराब के नशे में सफर करने वाले सैकड़ों लोगों को गिरफ्तार कर सरकारी राजस्व बढ़ाया जा रहा था। कभी-कभी लीटर दो लीटर शराब की बरामदगी झारखंड की ओर से आने वाले इन लोगों से हो जाती थी। परंतु अचानक मंगलवार की सुबह टैंकर से शराब की बड़ी खेप जब्त कर उत्पाद विभाग की टीम ने माफियाओं में हड़कम्प मचा दिया।

नये-नये प्रयोग से हो रही शराब की तस्करी

शराब की खेप बिहार में भेजने के लिए तस्कर हर रोज नये-नये प्रयोग कर रहे हैं। ऑयल टैंकर, गैस टैंकर तथा कंटेनर ट्रकों के अलावा वाहनों में नीचे तहखाना बनाकर तो कभी सीट के नीचे बने तहखानों से शराब लायी जा रही है। वहीं पुलिस एवं उत्पाद विभाग तस्करों के नये प्रयोगों को नाकाम करती रही है। इसके बावजूद गाढ़ी कमायी के कारण माफिया शराब तस्करी से बाज नहीं आ रहे हैं।

Input : live hindustan

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: