https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

पटना. दहेज को लेकर हुए विवाद के बाद दुल्हन ने अपने पिया के घर जाने से इंकार कर दिया. मामली राजधानी पटना से सटे दानापुर थाना क्षेत्र के नासरीगंज से जुड़ा है. वर पक्ष के आग्रह पर नालंदा जिला के सूरजपुर के रहनेवाले मोहन प्रसाद अपनी बेटी और परिवार के सदस्यों के साथ दानापुर के मैरिज हॉल में आए थे.

इधर, बीएस कॉलेज दानापुर के पास रहनेवाले मेवालाल साव का दूल्हा बना बेटा गोपाल कुमार भी बारात लेकर मैरेज हॉल पहुंचा. इसी दौरान दहेज में बचे हुए रकम को लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद हो गया. वर पक्ष के लोगों ने वधू पक्ष पर हमला कर दिया. जिसमें लड़की का भाई समेत आठ लोग जख्मी हो गए. इस घटना से नाराज दुल्हन ने अपने पिया के साथ जाने से इंकार कर दिया और शादी के जोड़े में ही थाना पहुंच गई. आरोपी की गिरफ्तारी के लिए वो करीब पांच घंटे से थाना में बैठी रही.

स्थानीय लोगों का कहना है कि दोनों की शादी होने के बाद जब दुल्हन मृदला की विदाई के समय दहेज के बचे रकम को लेकर दोनों पक्ष के बीच विवाद हो गया. पहले से तय दहेज की रकम में कमी को लेकर दूल्हे के परिवार ने दुल्हन के परिवार से बकझक शुरू कर दी. देखते ही देखते बात लात घूंसों तक पहुंच गई और दुल्हन पक्ष के 8 सदस्य जख्मी हो गए.

इसके बाद दुल्हन का पूरा परिवार दानापुर थाना पहुंच गया. उनके साथ शादी के जोड़े में दुल्हन भी थी. वो दूल्हे के परिवार वालों पर कार्रवाई की मांग को लेकर करीब 5 घंटे तक थाने में बैठी रही. दुल्हन मृदुला का कहना था कि जो लोग शादी के समय मेरे परिवार के साथ पिटाई कर सकते हैं वे लोग शादी के बाद क्या करेंगे. यह कहना मुश्किल है. दूल्हे का पूरा परिवार बदमाश है. दुल्हन के अनुसार उसके परिवार को नालंदा से यहां बुलाया गया, लेकिन पानी तक नहीं पूछा.

दुल्हन के पिता मोहन प्रसाद का कहना है कि हमारे बेटी की शादी के लिए 15 लाख की मांग की गई थी, जिसमें हम लोगों ने 10 लाख दे दिए थे. पांच लाख के गहने भी दिए थे. इसके बावजूद वर के लोग दहेज में और रकम की मांग करने लगे. इसी को लेकर के हमारे परिवार के सदस्यों को लोहे के रॉड से पीटा गया, दानापुर पुलिस शिकायत के आधार पर मामले की छानबीन कर रही है.

Input : prabhat khabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *