https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

Patna: RJD सुप्रीमो लालू यादव के छोटे बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव दिल्ली से अपने पिता की सेवा कर करीब 2 महीने के बाद पटना लौट आये हैं. एयरपोर्ट पर उतरने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू यादव की सेहत का ध्यान रखना अभी बेहद जरूरी है.

उन्होंने कहा कि डॉक्टरों की देखरेख में लालू यादव का इलाज चल रहा है. सत्ता पक्ष द्वारा तेजस्वी के लापता रहने के आरोप लगाये जाने के सवाल पर नेताप्रतिपक्ष ने कहा, ‘सत्ता पक्ष के लोगों को यह ध्यान रखना चाहिए कि मैं नेता के साथ बेटा भी हूं. पिता की सेहत ख़राब रहने की वजह से मैं उनके साथ ही दिल्ली में था.’

तेजस्वी ने लालू यादव की तबियत को लेकर कहा कि अभी लालू जी की सेहत पर काफी ध्यान देने की जरूरत है. कोरोनाकाल के दौरान विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत होगी. वहीं, तेजस्वी यादव ने कहा कि जल्द ही लालू प्रसाद के पटना आगमन की बात बन सकती है. डॉक्टरों से इसको लेकर बात चल रही है कि सबकुछ सही रहा तो कुछ दिनों बाद वो पटना आ जाएंगे.

तेजस्वी यादव ने लोजपा के टूटने पर सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि लोजपा को उन्होंने 2005 और 2010 में भी तोड़ने का प्रयास किया था. तेजस्वी ने कहा कि 2010 में जब लोजपा के पास एक भी विधायक और सांसद नहीं था. तब लालू प्रसाद यादव ने राजद के कोटे से रामविलास पासवान को राज्यसभा भेजा था.

तेजस्वी ने नीतीश कुमार पर निशाना साधा और कहा कि उन्हें तो किसी चीज की जानकारी नहीं रहती है. उन्हें यह भी पता नहीं होगा कि बिहार के कई जिलों में 100 रुपये से ज्यादा पेट्रोल हो गया है. उन्हें यह भी जानकारी नहीं होगा कि बिहार बेरोजगारी का केंद्र बन गया है. उन्हें तो यह भी जानकारी नहीं होगी कि बिहार के लोग बाढ़ के पानी में अभी ही डूब रहे हैं.

तेजस्वी ने चिराग पासवान को अपना भाई बताते हुए कहा कि उन्हें फैसला करना होगा कि वह संविधान बनाने वालों के साथ रहेंगे या गोवलकर के साथ रहेंगे. तेजस्वी ने कहा कि अब चिराग को यह तय करना है कि वो संविधान निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर के विचारधारा के साथ आएंगे या फिर कुछ खास विचारों व विचारधारा RSS के साथ वो चलेंगे.

Source : Zee News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *