https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

Chaturmas 2021 Start Date, Shubh Vivah Muhurat 2021 November December, Devshayani Ekadashi 2021 Date: हिंदू पंचांग के अनुसार आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को देवशयनी एकादशी के रूप में भी जाना जाता है. इस बार यह तिथि 20 जुलाई 2021, मंगलवार को पड़ रही है.

हिंदू धर्म इस दिवस का विशेष महत्व होता है. कहा जाता है कि इस दिन के बाद से भगवान विष्णु समेत अन्य देवतागण गहरी निद्रा में चले जाते है और सृष्टि का संचालन भगवान शिव के जिम्मे होता है.

चार्तुमास के बारे में

  • चार्तुमास के आरंभ होते ही विवाह, मुंडन और जनेऊ जैसे अन्य मांगलिक कार्य चार महीने के लिए वर्जित हो जाते है.
  • देवशयनी एकादशी व्रत भगवान विष्णु को समर्पित होता है.
  • कहा जाता है कि इस दिन से भगवान विष्णु पाताल लोक चले जाते हैं.

कब से कब तक रहेगा चार्तुमास

  • चातुर्मास आरंभ तिथि: 20 जुलाई 2021, मंगलवार को
  • चातुर्मास की अंतिम तिथि: 14 नवंबर 2021, रविवार तक
  • चातुर्मास की अवधी: चार माह
  • देवशयनी एकादशी तिथि: 20 जुलाई 2021, मंगलवार को

चातुर्मास के बाद शादी मुहूर्त

वाराणसी पंचांग की मानें तो चतुर्मास के बाद अर्थात 19 नवंबर के बाद से 13 दिसंबर तक कुल 12 लग्न पड़ रहे है.

नवंबर-दिसंबर 2021 में शादी के शुभ मुहूर्त

  • 20 नवंबर : (मार्गशीर्ष कृ. प्रतिपदा, शनि) रोहिणी नक्षत्र में (दिवारात्रि).
  • 21 नवंबर : (मार्ग. कृ. द्वितीया, रवि) मृगशिरा नक्षत्र में (दिवारात्रि).
  • 26 नवंबर : (मार्ग. कृ. सप्तमी, शुक्र) मघा नक्षत्र में सायं 4.55 के बाद.
  • 28 नवंबर : (मार्ग. कृ नवमी, रवि) उ.फा. नक्षत्र में सायं 6.00 बजे से.
  • 29 नवंबर : (मार्ग. कृ. दशमी, सोम) उ.फा.- हस्त नक्षत्र में (दिवारात्रि).
  • 05 दिसंबर : (मार्ग. शु. प्रतिपदा, रवि) मूल नक्षत्र में दिन में 10.06 के बाद.
  • 07 दिसंबर : (मार्ग. शु. तृतीया-चतुर्थी, मंगल) उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में.
  • 11 दिसंबर : (मार्ग. शु. अष्टमी, शनि) रात्रि 3.30 के बाद उ.भाद्र. नक्षत्र में.
  • 12 दिसंबर : (मार्ग. शु. नवमी, रवि) उ.भाद्र.- रेवती नक्षत्र में (सामान्य).

इनपुट : प्रभात खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *