https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

बोचहां सर्फुद्दीनपुर के ठेकेदार दिलीप चौधरी के पुत्र कृष्णनंदन कुमार का अहियापुर थाने की पुलिस ने शुक्रवार दोपहर बयान दर्ज किया है। जमादार सुमनजी झा ने बैरिया स्थित एक निजी अस्पताल में जाकर उसका बयान दर्ज लिया। इसके आलोक में थानेदार सुनील कुमार रजक ने दो अज्ञात बाइक सवार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। साथ ही मामले की गंभीरता के मद्देनजर मेडिकल ओवरब्रिज के पास से एक संदिग्ध को उठाया है।

छात्र के बयान के मुताबिक, अपराधियों ने लूट के लिए उसे गोली मारी थी। अपराधियों ने उसपर दो राउंड फायरिंग की थी। पहली गोली से वह बच गया। इसके बाद लुटेरों ने आगे बढ़कर दूसरी गोली चलाई जो उसके पेट में लगी।

इसके बावजूद वह किसी तहर घटनास्थल से आगे बढ़ता रहा। बखरी चौक पर लोगों को देखकर दोनों बदमाश आगे की ओर भाग निकले। इसके बाद उसे पहले एसकेएमसीएच में फिर वहां से बेहतर इलाज के लिए बैरिया स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, अस्पताल के डॉक्टरों के अनुसार, ऑपरेशन कर छात्र के पेट से गोली निकाल दी गयी है। फिलहाल, वह खतरे से बाहर है और आईसीयू में भर्ती है।

बाइक रोकने की दे रहें थे धमकी :

कृष्णनंदन ने पुलिस को बताया कि उसके एक रिश्तेदार मेडिकल में भर्ती हैं। उनके लिए खाना लेकर घर से निकाला था। उसकी बाइक के हैंडली में खाने का डब्बा था। जिसे देखकर पटियास से करीब एक किलोमीटर पहले बाइक सवार उसके पीछे लग गए। वे लोग हाथ में बंदूक लिये उसे बाइक रोकने को लेकर धमकी देने लगे। लेकिन, उसने बाइक नहीं रोकी और आगे बढ़ता रहा। इसबीच उनलोगों ने दो राउंड फायरिंग की। इसमें से एक गोली उसे लगी।

Input : Live Hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *