0 0
Read Time:3 Minute, 55 Second

Bihar में सर्जी का सितम जारी है. राजधानी पटना में शुक्रवार को मौसम ने दिन में थोड़ी राहत दी, हल्की धूप निकली. इसके कारण दिन का अधिकतम तापमान गुरुवार के मुकाबले 1.6 डिग्री अधिक 15 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, लेकिन मौसम साफ रहने के कारण न्यूनतम तापमान में गिरावट आयी और शुक्रवार को सीजन का सबसे कम तापमान 7.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विज्ञान केंद्र की मानें तो अभी सर्द पछुआ व उत्तर पछुआ हवाओं के कारण दो-तीन दिनों तक शीत लहर का सामना करने की संभावना व्यक्त की गयी है. अगले एक सप्ताह तक कड़ाके की ठंडक पड़ेगी. बताया जा रहा है कि गया, मुजफ्फरपुर और भागलपुर में अगले तीन दिनों में हल्की धूप निकलने की संभावना है.

ठंड बढ़ते ही कोल्ड डायरिया के मरीज बढ़े

ठंड बढ़ने के साथ ही छोटे बच्चे कोल्ड डायरिया से पीड़ित होने लगे हैं. जिले के सदर अस्पतालों , एसकेएमसीएच व पीएचसी में कोल्ड डायरिया पीड़ित होने वाले बच्चों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. प्रत्येक दिन 15 से 20 बच्चे कोल्ड डायरिया से पीड़ित होकर ओपीडी में आ रहे हैं. पिछले तीन दिन में सदर अस्पताल में 60, एसकेएमसीएच में 220 और केजरीवाल में 130 बच्चे इलाज के लिये पहुंचे.

बच्चों में हो रही है खांसी, सर्दी, उल्टी, दस्त की शिकायत

सदर अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञ डा. चिन्मय शर्मा ने कहा कि कोल्ड डायरिया पीड़ित बच्चों को खांसी, सर्दी, उल्टी, दस्त की शिकायत रहती है. कोल्ड डायरिया से बचने के लिए ठंड के मौसम में बच्चों को बचाव की जरुरत हैं. साथ ही यह भी बताते है कि कोल्ड डायरिया पीड़ित बच्चों का खास ख्याल नही रखा गया तो उसकी जान भी जा सकती है. इसलिए लोगों को काम के साथ साथ बच्चे का भी ख्याल रखना चाहिए. बच्चे को उल्टी दस्त होने के साथ शरीर में पानी की कमी होने लगे तो बच्चा कोल्ड डायरिया का शिकार हो जाता है. उक्त सभी लक्षण दिखने पर बच्चे को तुरंत ओआरएस का घोल देना शुरू कर देना चाहिए और नजदीक के चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए.

यह हैं कोल्ड डायरिया के लक्षण

बच्चे को ठंड लगने से उल्टी व दस्त होना,बुखार आना, शरीर में पानी की कमी होना कोल्ड डायरिया का मुख्य लक्षण है. शिशु रोग विशेषज्ञ चिकित्सक डा. चिन्मय शर्मा ने बताया कि कोल्ड डायरिया से बच्चे को बचाने के लिए इस मौसम में बच्चे को ठंड से बचाकर रखना चाहिए,खाने में गर्म भोजन देना चाहिए,साफ सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए,खाना खाने से पहले बच्चे का हाथ साबुन से अच्छी तरह धोना चाहिए, बच्चे को बाजार का बना भोजन नही देना चाहिए.

इनपुट : प्रभात खबर

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: