https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

Bihar Air Pollution: बिहार का सबसे गंदा शहर दरभंगा है. वहां की हवा सबसे ज्यादा प्रदूषित बन गई है. प्रचंड ताप के बीच तापमान के बीच प्रदूषण काफी बढ़ गया. हवा में उड़ते मोटे धूलकण की मात्रा बढ़ने से बिहार के ज्यादातर शहरों की हवा खराब हो गई. इस दौरान सात ज्यादा शहरों की हवा खराब श्रेणी के अंदर आ गई. जिसमें से दरभंगा, मुजफ्फरपुर, मुंगेर, समस्तीपुर, भागलपुर और बक्सर शामिल है.

सबसे प्रदूषित शहर दरभंगा बना
वहीं सोमवार को बिहार का सबसे प्रदूषित शहर दरभंगा बन गया. दरभंगा की वायु गुणवत्ता का सूचकांक 362 रहा. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण पर्षद की ओर से सोमवार को जारी वायु गुणवत्ता सूचकांक के आंकड़ों के मुताबिक बिहार के शहरों में मोटे धूलकण यानी पीएम-10 की मात्रा ज्यादा पाई गई है. राजधानी पटना में पीएम-10 के साथ-साथ पीएम 2.5 की मात्रा भी पाई गई. हालांकि सोमवार को पटना की हवा में थोड़ा सुधार हुआ है.

सोमवार को पटना की वायु गुणवत्ता का सूचकांक 275 रहा. एक दिन पहले रविवार को यहां का सूचकांक 364 था. लगातार दूसरे दिन मुंगेर 350 सूचकांक के साथ राज्य में दूसरे स्थान पर रहा. समस्तीपुर की वायु गुणवत्ता सूचकांक 347, बक्सर का 346, मुजफ्फरपुर का 327, आरा का 303, गया का सूचकांक 146, सासाराम का 174 और बेतिया का सूचकांक 141 के साथ मोडेरेट श्रेणी में रहा. वहीं बता दें कि बिहार के कई शहर दिल्ली और नोएडा से भी ज्यादा प्रदूषित हैं. अन्य राज्यों की राजधानी की हवा भी बिहार के शहरों से अच्छी है.

बिहार में वायु प्रदूषण शहर एक्यूआई लेवल

दरभंगा शहर का एक्यूआई लेवल 362 रहा.

मुंगेर शहर का एक्यूआई लेवल 350 रहा.

समस्तीपुर शहर का एक्यूआई लेवल 347 रहा.

बक्सर शहर का एक्यूआई लेवल 346 रहा

पटना शहर का एक्यूआई लेवल 275 रहा.

Source : Zee news

One thought on “Bihar Air Pollution: बिहार का सबसे गंदा शहर बना दरभंगा, हवा सबसे ज्यादा प्रदूषित”
  1. I see You’re truly a just right webmaster. This site loading velocity is incredible.
    It seems that you are doing any distinctive
    trick. Also, the contents are masterpiece. you’ve done a wonderful job in this
    topic! Similar here: ecommerce and also here: Najlepszy sklep

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *