हां, माना उनके जीजा जी किसान हैं… रॉबर्ट वाड्रा के जरिये BJP ने किया राहुल गाँधी पे तीखा वार

0 0
Read Time:4 Minute, 47 Second

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे तमाम बॉर्डर्स पर कई दिनों से जारी किसान आंदोलन के बीच बीजेपी ने सोमवार को कांग्रेस और राहुल गांधी पर तीखा वार किया। पार्टी ने राहुल गांधी पर उनके जीजा जी (रॉबर्ट वाड्रा) के जरिए से हमला बोला है। बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है कि राहुल गांधी को फसलों के नामों की जानकारी भी नहीं है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी किसान आंदोलन को लेकर लगातार केंद्र सरकार को घेरते आए हैं। उन पर पलटवार करते हुए बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ”राहुल जी किसानों को भ्रमित करने के लिए बार-बार ट्वीट कर रहे हैं। राहुल जी कितना समझते हैं किसानी को।

हां, माना उनके जीजा जी (रॉबर्ट वाड्रा) किसान हैं। आपको अंदर की बात बताता हूं कि रबी और खरीफ को वे बीजेपी कार्यकर्ता समझते हैं। उन्हें तो यह पता भी नहीं कि ये फसलों का नाम हैं।”

बीजेपी प्रवक्ता ने किसान आंदोलन को लेकर विपक्ष पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा,” किसान आंदोलन पर विपक्ष भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहा है।” वहीं, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किसान आंदोलन पर कहा कि कांग्रेस किसानों के नाम पर राजनीतिक रोटियां न सेंकें। उन्होंने कहा, ”देश के किसान इन कानूनों के पक्ष में हैं, जो किसान भाई सिंघु बॉर्डर पर बैठे हैं, वे भी हमारे अपने हैं। सरकार हर प्रश्न का उत्तर देने और हर समस्या के समाधान के लिए तैयार है।

अरविंद केजरीवाल पर बीजेपी का वार

वहीं, बीजेपी ने आम आदमी पार्टी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, ”आप तो वही अरविंद केजरीवाल जी और आम आदमी पार्टी हैं न, जिसने जब पंजाब में चुनाव हुआ था तो अपने मेनिफिस्टो में घोषणा की थी कि अगर पंजाब में हम सत्ता में आ जाएंगे तो बिचौलियों को हटा देंगे और एपीएमसी के जो कानून हैं, उनमें सुधार करेंगे। लेकिन, आज आप भूख हड़ताल पर बैठ गए।” बता दें कि किसान आंदोलन का समर्थन करने के लिए आम आदमी पार्टी के कई नेताओं ने सोमवार को उपवास रखा हुआ है। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले हफ्ते मैं भी किसानों के पास जाना चाह रहा था, लेकिन इन्होंने मेरे दरवाजे बंद कर दिए मुझे जाने नहीं दिया। उन्होंने कहा, ”हमें क्या फर्क पड़ता है, हमने घर पर बैठकर ही किसानों के आंदोलन की सफलता के लिए प्रार्थना कर ली। आज पूरी आम आदमी पार्टी उपवास पर बैठी है।”

कृषि मंत्री का दावा- कई किसान संगठन सरकार के समर्थन में

अखिल भारतीय किसान समन्वय समिति से जुड़े उत्तर प्रदेश, केरल, तमिलनाडु, तेलंगाना, बिहार और हरियाणा जैसे विभिन्न राज्यों के 10 संगठनों ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात की। सभी ने तीनों कृषि कानूनों पर अपना समर्थन जताया है। किसान संगठनों से मुलाकात के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा, ”अखिल भारतीय किसान समन्वय समिति के सदस्य तमिलनाडु, तेलंगाना, महाराष्ट्र, बिहार से आए थे। उन्होंने कृषि कानूनों का समर्थन किया और हमें उसी पर एक पत्र दिया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों के कल्याण के लिए ऐसा किया है और वे इसका स्वागत और समर्थन करते हैं।”

इनपुट : हिंदुस्तान

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Previous post Muzaffarpur news : अवैध संबंध का विरोध करने पर सास ने बहू को घर से निकाला
Next post बिहार इंटरमीडिएट की परीक्षा की तिथी मे हुआ बदलाव, जाने पूरा सेडूल

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: