22 साल पुरानी दोस्ती को किया अकाली दल ने किया बाय बाय, क़ृषि बिल के विरोध मे छोड़ा NDA का साथ

0 0
Read Time:2 Minute, 23 Second

नई दिल्ली, 22 साल साथ रहने के बाद अब शिरोमणि अकाली दल ने एनडीए का दामन छोड़ दिया है. अकाली दल के अध्‍यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने खुद यह जानकारी दी है. उन्‍होंने कहा कि कृषि से संबंधित अध्‍यादेशों को लाने वाली एनडीए का हम हिस्‍सा नहीं हो सकते. सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि एनडीए से अलग होने का फैसला सर्वसम्‍मति से लिया गया है.

अकाली दल ने कहा, ‘हमने एमएसपी पर किसानों की फसलों के सुनिश्चित विपणन की रक्षा के लिए वैधानिक विधायी गारंटी देने से मना करने पर बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन से अलग होने का फैसला किया. आपको बता दे की बता दें कि पंजाब और हरियाणा में मोदी सरकार द्वारा पारित कृषि विधेयकों के विरोध में किसान सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं.

शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी के बीच उस समय नाराजगी खुलकर सामने आ गई थी जब किसान बिल के विरोध में अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने पहले ही केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। एनडीए से अलग होने का फैसला अकाली दल के चीफ सुखबीर सिंह बादल ने पार्टी की कोर कमिटी के साथ बैठक मे लिया है। इस बैठक में पार्टी के कई बड़े पदाधिकारी भी मौजूद थे। बता दें कि शिरोमणि अकाली दल की नेता और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने संसद में पेश किए गए कृषि से संबंधित दो विधेयकों के विरोध में पिछले हफ्ते बृहस्पतिवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था. हरसिमरत कौर बादल मोदी सरकार में अकाली दल की एकमात्र प्रतिनिधि थीं और अकाली दल, भाजपा की सबसे पुरानी सहयोगी पार्टी भी थी।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
100%
2 Star
0%
1 Star
0%

120 thoughts on “22 साल पुरानी दोस्ती को किया अकाली दल ने किया बाय बाय, क़ृषि बिल के विरोध मे छोड़ा NDA का साथ

  1. Negatif SEO ile rakiplerinizin sitelerini kolaylıkla alt sıralara düşürebilir ve siz rakiplerinizin yerine geçebilirsiniz.

    Sizler için sevmediğiniz yada rakip sitelerinize
    ANTİ SEO çalışması yani Negatif SEO çalışması yapabilirim.

    With negative SEO, you can easily lower your competitors’ sites and you can replace your competitors.

    I can do ANTI SEO work, that is, Negative SEO work for you
    or your competitor sites that you do not like.

    Negatif SEO

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: