https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव धीरे धीरे अब अपने पुरे सबाब पे आ रहा है. जँहा लगभग सभी दलों ने अपने अपने कैंडिडेट की घोसणा कर दी है तो अब आरोपी प्रत्यारोप का दौड़ चालू हो गया. बिहार विधानसभा चुनाव के दो प्रमुख दल एक NDA और दूसरा महागठबंधन के बीच अब आरोप प्रत्यारोप का दौड़ शुरू हो गया है. बेगूसराय के चेरिया बरियारपुर की जेडीयू कैंडिडेट मंजू वर्मा के को चुनाव मैदान में लाने के कारण राजद सीधे सीएम नीतीश को ही टारगेट कर रही है. इस मुद्दे को लेकर आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने बीजेपी-जेडीयू गठबंधन पर हमला बोला है. उन्होंने मुज़फ्फरपुर बालिका गृह कांड को लेकर दोनों पर निशाना साधा है. तेज प्रताप यादव ने ट्वीट कर लिखा की बेईमान जनादेश लूटेरों को बिहार से भगाना है और मुज़फ्फरपुर बालिका गृह कांड से कलंकित बिहार को बचाना है. हैश टैग Boycott_BJP_JDU. You will definitely like it exporntoons.net porn of various genres!

आपको बता दें कि मंजू वर्मा 2018 के उस मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के आरोपी की पत्नी हैं जिसने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था. मुजफ्फरपुर बालिका गृह में 34 लड़कियों के साथ दुष्कर्म किया गया था. इस पूरे मामले में कथित रूप से मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा के भी शामिल होने की बात सामने आई थी. इसके साथ ही बालिका गृह कांड की जांच के दौरान मंजू वर्मा के घर पर पुलिस की छापेमारी में अवैध हथियार और कई कारतूस बरामद किए गए थे. इसके बाद मंजू वर्मा और उनके पति को गिरफ्तार किया गया था और दोनों को जेल जाना पड़ा था. हालांकि, बाद में दोनों को जमानत मिल गई थी. यही अब चेरिया बरियारपुर से टिकट पाने वाली मंजू वर्मा को तब पार्टी ने खुद निकाल दिया था. दरअसल मंजू वर्मा उस वक्त नीतीश सरकार में समाज कल्याण विभाग की मंत्री थीं. आरोप लगा कि मंजू वर्मा की नाक के नीचे बालिका गृह कांड होता रहा और उन्होंने कोई एक्शन नहीं लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *