https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

पटना. बिहार के सभी नवनिर्वाचित पंचायत जनप्रतिनिधियों का चुनीव के बाद अभी तक प्रशिक्षण नहीं होने से सवाल खड़े हो रहे हैं, मगर अब इनका प्रशिक्षण (Training) होना तय हो गया है. आगामी 16 जून से नवनिर्वचित सभी जनप्रतिनिधियों का प्रशिक्षण शुरू होगा. इस प्रशिक्षण शिविर में सभी मुखिया, सरपंच, वार्ड पार्षद, पंच, सहित सभी छह पदों पर निर्वचित जनप्रतिनिधियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा. बिहार भर से लगभग 8,000 जनप्रतिनिधियों का निर्वाचन हुआ है, इन सभी का अलग-अलग तारीख पर कई दिन तक प्रशिक्षण शिविर चलेगा. खास बात है कि पंचायत जनप्रतिनिधियों के सम्मेलन को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) संबोधित करेंगे.

मिली जानकारी के मुताबिक सीएम नीतीश कुमार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सभी जनप्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे. वो इन्हें विकास और लोगों के लिए काम करने के टिप्स देंगे. मुख्यमंत्री सात निश्चय के तहत बिहटा के गांवों के विकास के लिए बनाये रोडमैप को पूरा करने और पंचायत स्तर तक के उत्थान का टिप्स देंगे. नवनिर्वाचित मुखिया और तमाम पंचायत जनप्रतिनिधियों का प्रशिक्षण नहीं होने के कारण विकास का काम शुरू नहीं हुआ है.

मुखिया को प्रशिक्षण से पहले हथियार की मांग

बता दें कि मुखिया सहित तमाम जनप्रतिनिधियों का भले ही प्रशिक्षण नहीं हुआ है, मगर शासन के द्वारा सभी प्रतिनिधियों को हथियार देने का निर्देश जारी हो चुका है. पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने पिछले महीने निर्देश जारी करते हुए कहा था कि जो भी प्रतिनिधि आर्म्स लाइसेंस के लिए आवेदन देंगे उन्हें सुरक्षा के लिए जल्द लाइसेंस दे दिया जाएगा. इसके लिए गृह विभाग के द्वारा सभी जिलाधिकारियों (डीएम) को पत्र लिख कर निर्देश जारी कर दिया गया है.

पिछले एक साल के दौरान कई मुखिया और पंचायत जनप्रतिनिधियों पर हमला होने के बाद सुरक्षा के लिए यह फैसला लिया गया है.

Source : News18

Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *