https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

पटना, अरविंद शर्मा । पश्चिम बंगाल और असम के विधानसभा चुनाव (West Bengal and Assam Assembly Elections) में राजद (RJD) के लिए जमीन तैयार करने की जिम्मेवारी पहले तो अब्दुल बारी सिद्दीकी (Abdul Bari Siddiqui) और श्याम रजक (Shyam Rajak) के हवाले थी। किंतु चुनाव की घोषणा होने के साथ ही इस काम को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Leader of oppostion Tejashwi Yadav) ने खुद अपने हाथों में ले लिया है। बिहार विधानसभा के बजट सत्र (Bihar VidhanSabha Budget Session) के बीच में ही तेजस्वी ने तीन दिनों का समय निकाला है और दोनों राज्यों के चुनावी दौरे पर निकल गए। गुवाहाटी (Gwahati) में उन्होंने असम कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा (Assam Congress President Ripun Bora) एवं ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के बदरुद्दीन अजमल (All India United Democratic Front Badruddin Azmal ) से मुलाकात की है।

रविवार को कोलकाता में ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) से मिलना है।

राजद ने जिद छोड़ने का मूड बना लिया

तेजस्वी की पूरी कवायद को तालमेल की राजनीति से जोड़कर देखा जा रहा है। खबर यह भी है कि राजद ने सीटों के मसले पर जिद छोडऩे का मूड बना लिया है। मतलब ममता अपनी मर्जी से एक-दो सीटें भी दे देंगी तो राजद को वह भी मंजूर हो जाएगा। राजद ने अपने दो बड़े नेताओं को तीन हफ्ते से पश्चिम बंगाल और असम के अभियान पर लगा रखा है। अब्दुल बारी सिद्दीकी एवं श्याम रजक ने दो सप्ताह पहले ममता के भतीजा अभिषेक बनर्जी से भी मुलाकात की थी। राजद का प्रस्ताव रखा था, जिसमें कुल छह सीटों की मांग थी। किंतु तृणमूल की तरफ से अभी तक कोई जवाब नहीं आया तो निराशा स्वाभाविक है। चुनाव की तिथियों की घोषणा के साथ ही राजद की बेचैनी बढ़ गई है, क्योंकि कांग्रेस और वामदलों के मोर्चे ने राजद के लिए दरवाजा खोल रखा है। उन्हें आज भी इंतजार है, जबकि राजद की प्राथमिकता में ममता बनर्जी हैं।

राजद के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक (Shyam Rajak) ने दावा किया है कि ममता की ओर से बुलावा आया है। रविवार को कोलकाता में तेजस्वी की मुलाकात होनी है। इससे आगे वह कुछ नहीं बताना चाहते हैं। बोले- इंतजार कीजिए। हमें भाजपा को बंगाल से दूर रखना है। सीटों की संख्या कोई मसला नहीं है।

असम में तालमेल तय

गुवाहाटी में कांग्रेस के रिपुन बोरा और बदरुद्दीन अजमल से तेजस्वी यादव की मुलाकात के बाद राजद उत्साहित है। श्याम रजक ने दावा किया कि तालमेल तय हो गया है। सीटों का मसला भी जल्द ही सुलझा लिया जाएगा। सूत्रों का दावा है कि 126 विधानसभा सीटों वाले असम में राजद के हिस्से में पांच सीटें आ सकती हैैं। बिहारी मूल के लोगों की तादाद और प्रभाव को देखते हुए कोई दल राजद को नजरअंदाज करने की स्थिति में नहीं है। बिहार में राजद की सहयोगी कांग्रेस की भी इच्छा है कि असम में तेजस्वी का साथ मिल सके।

इनपुट : जागरण

9 thoughts on “West Bengal Chunav : पश्चिम बंगाल मे ममता की ही चलेगी मर्जी, तेजस्वी ने कहा- जितनी भी सीटे दे दीदी, लड़ेंगे जरूर”
  1. After looking over a number of the articles on your site, I truly like
    your technique of blogging. I added it to my bookmark website
    list and will be checking back in the near future. Take a look at my web site too and tell me what you think.

  2. Good day! I could have sworn I’ve been to this website before
    but after browsing through some of the post I realized it’s
    new to me. Anyways, I’m definitely glad I found it and I’ll be bookmarking and checking back frequently!

  3. It is appropriate time to make a few plans for the longer term
    and it’s time to be happy. I have read this post and if
    I may I desire to suggest you few fascinating issues or advice.
    Perhaps you could write subsequent articles regarding this article.

    I want to learn more things about it!

  4. Hello There. I found your weblog the use of msn. That is a
    really smartly written article. I’ll make sure to bookmark it and return to learn more of
    your helpful info. Thank you for the post. I will definitely return.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *