https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

बिहार के सुपौल से त्रिवेणीगंज बीडीओ का घूस लेते एक वीडियो वायरल हुआ है. वीडियो में साफ दिख रहा है कि प्रखंड विकास पदाधिकारी पूर्व मुखिया से घूस ले रही हैं. पूर्व मुखिया सीसीटीवी के बारे में पूछता है तो बीडीओ कहती हैं- ‘इसमें कुछ रिकॉर्ड नहीं होता है. इसे सिर्फ डराने के लिए लगाया है. आप निश्चिंत रहिए’. मामला सामने आने के बाद डीएम कौशल कुमार ने जांच के आदेश दे दिए हैं. घटना जिले के त्रिवेणीगंज प्रखंड के विकास पदाधिकारी आशा कुमारी का है. जहां पंचायत योजना के क्रियान्वयन को लेकर 20 हजार रुपए घूस लेने का वीडियो सामने आया है.

घूस की रकम बढ़ाने को लेकर बहस
करीब 2 मिनट 45 सेकेंड के इस वीडियो में प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं पूर्व मुखिया शिवनारायण यादव के बीच घूस की रकम बढ़ाने को लेकर नोक-झोंक भी हो रही है. वायरल वीडियो में दोनों के बीच लेनदेन को लेकर हो रही बातचीत भी स्पष्ट तौर पर सुनाई दे रही है. जिसमें त्रिवेणीगंज की प्रखंड विकास पदाधिकारी क्षेत्र के गुडिया पंचायत के पूर्व मुखिया पति शिवनारायण यादव से सात निश्चय योजना के तहत 10 लाख रुपए की राशि भुगतान के नाम पर 25 हजार रुपए घूस की मांग कर रही हैं.

20 हजार में बात फाइनल
जबकि मुखिया पति 20 हजार रुपए लेकर बात फाइनल करने पर अड़े हैं. मुखिया बीडीओ कार्यालय में लगे सीसीटीवी को बंद करने की बात कहते हैं. बीडीओ आशा कुमारी कहती हैं कि सीसीटीवी का तार कटा हुआ है. बस डराने के लिए सीसीटीवी लगाए हैं. आपको बता दें कि सरकार विभिन्न योजनाओं के तहत पंचायत के विकास के लिए लाखों करोड़ों रुपये का फंड हर साल देती है.

पूर्व मुखिया और बीडीओ आशा कुमारी की बातचीत कुछ इस प्रकार है-

बीडीओ – आप 25 से कम नहीं न किए हैं..?
मुखिया – 25 से कम किए या 30 से कम किए… पहले आप सीसीटीवी कैमरा को बंद कीजिए
बीडीओ – मेरी ही सम्पति है, इसके मालिक हम हैं.
मुखिया – हम समझते हैं इसकी मालिक आप हैं, जाते वक्त आप डिलीट मार दीजियेगा.
बीडीओ – अभिये डिलीट कर देते हैं. अपने डिलीट हो जायेगा 8 दिन में काहे टेंशन लेते हैं.
मुखिया – हम टेंशन नहीं लेते हैं, आप खामाखां टेंशन काहे पालते हैं.
बीडीओ – अरे बाबू कैमरा नहीं चालू है, बस डराने के लिए है. देखिये तार कटा हुआ है.
मुखिया – इसको बंद कीजिये न…
बीडीओ – अरे बाबू सही बोल रहे हैं कैमरा का तार खुला हुआ है, देखिए ठीक से
मुखिया पैसे देते हुए – हां लीजिये
बीडीओ – 20 नहीं लेंगे
मुखिया पति – नाटक न करा
बीडीओ – हम न लेंगे
मुखिया पति – आप लीजिये न महराज
बीडीओ – न… हम 20 न लेंगे, उसको दे दीजिये, हम 25 से कम ने लेंगे.
मुखिया पति – हम आपको और देंगे आपके हाथ में देंगे, लीजिये न महराज
बीडीओ – 20 दिए हैं
मुखिया पति – हां
बीडीओ – 20 न लेंगे. इ दस लाख का थोड़े हुआ
मुखिया पति – दस लाख का क्या तीस लाख का योजना खोले हैं आप थे कहा इ बोलिये
बीडीओ – आप देने क्यों आएं

वीडियो वायरल होने के बाद डीएम कौशल कुमार ने कहा है कि डीडीसी के नेतृत्व में जांच टीम का गठन कर दिया गया है. जांच टीम 24 घंटे में रिपोर्ट मांगी है. रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी.

इनपुट : आज तक

Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *