https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर, जिले के करजा थाना अंतर्गत रक्सा गाँव में अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के अवसर पर मानवाधिकार जनकल्याण सुरक्षा समिति की ओर से परिसंवाद का आयोजन किया गया, जिसमें मानवाधिकार अधिवक्ता एस. के. झा ने कहा कि मानवाधिकारों का उल्लंघन समाज के लिए एक अभिशाप है। उन्होंने कहा कि मानव अधिकार वैश्विक कानून का एक हिस्सा है, जो स्पष्ट अधिकारों को उजागर करता है, जिसकी देखभाल करना राष्ट्रों का दायित्व होता है।

एस. के. झा ने कहा क़ी राष्ट्र अक्सर मानव अधिकारों को अपने स्वयं के राष्ट्रीय, राज्य और सम्बंधित कानूनों में शामिल करते हैं। मानव अधिकार लोगों के लिए संतुलन के साथ रहने के लिए आवश्यक महत्वपूर्ण मानको को दर्शाता है। वर्तमान समय में मानवाधिकारों का उल्लंघन किया जाना समाज के लिए एक अभिशाप है, जिसे हर हाल में जड़ से समाप्त किया जाना चाहिए, जिससे मानवाधिकारों की रक्षा हो सके और मानवाधिकार उल्लंघन पर विराम लग सके।

कार्यक्रम की अध्यक्षता हरिशंकर यादव ने किया तथा मंच-संचालन मुकेश कुमार कौशल ने किया एवं धन्यवाद-ज्ञापन त्रिवेणी राय ने किया। मौके पर संजय कुमार, अजय कुमार, कमलेश कुमार, संतोष कुमार, मो. अली राजा, योगेंद्र साह, राघव महतो सहित सैकड़ों की संख्या में मानवाधिकार कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *