https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर में सड़क पर करंट लगने से एक युवक की मौत हो गई। हादसे में उसके माता-पिता बाल-बाल बच गए। परिवार दिल्ली से मुजफ्फरपुर लौटा था। उन्हें दरभंगा जाना था। तो वो बस स्टैंड के लिए रवाना हुए, लेकिन रास्ते के बीच में पानी भरा हुआ था। युवक पानी के अंदर से निकल रहा था। माता-पिता साइड से जा रहे थे। तभी वो करंट की चपेट में आ गया।

इस दौरान पिता पास पड़े बांस की मदद से बेटे को छुड़ाने की कोशिश करने लगे। और मां उसे खींचकर सड़क की दूसरी ओर लाने की कोशिश करने लगी। उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसकी मौत हो गई। अगले महीने ही युवक की शादी होनी थी।

स्मार्ट सिटी योजना के तहत चल रहा है काम
मुजफ्फरपुर में स्मार्ट सिटी योजना के तहत शहर के स्टेशन रोड सहित कई इलाकों में निर्माण का काम चल रहा है। सोमवार की सुबह हुई बारिश से स्टेशन रोड में हुए जलभराव ने एक 22 साल के युवक की जान ले ली। वहीं उसके माता-पिता बाल-बाल बच गए। जलभराव में निगम के स्ट्रीट लाइट का तार टूटकर गिर गया था। इसमें करंट था।

दिल्ली से दरभंगा जा रहा था परिवार
दिल्ली से दरभंगा के लिए मुजफ्फरपुर पहुंचे कैलाश यादव, उनकी पत्नी शुभकला देवी और बेटा रोहित (22) हमसफर एक्सप्रेस से उतरे थे। फिर बस पकड़ने के लिए बस स्टैंड जा रहे थे। सड़क पर जलभराव था। रोहित के माता-पिता पानी से अलग हटकर चल रहे थे। रोहित ने जैसे ही पानी में पैर रखा, उसे तेज झटका लगा और कुछ दूर जाकर नाली में गिरा। उसे बचाने दौड़ी उसकी मां शुभकला देवी दौड़ी। उन्हें भी करंट लगा वो भी झटका बर्दाश्त नहीं कर पाईं और पानी में गिर गईं।

फिर कैलाश दोनों को बचाने के लिए आगे बढ़े, उन्हें भी करंट लगा। लेकिन दोबारा संभलकर पत्नी को पहले निकला। फिर बेटा को किसी तरह निकाला। उसे सदर अस्पताल लेकर गए। जहां डॉक्टर ने रोहित को मृत घोषित कर दिया।

कलेजा पीट-पीटकर रोने लगी मां
दोनों पति-पत्नी दहाड़ मारकर रोने-बिलखने लगे। मृतक की मां कलेजा पीट-पीटकर चीत्कार कर रही थी। वह कह रही थी कि शादी में बेटे के साथ फोटो खिंचाने का सपना देखे थे। दरअसल वे लोग अपने गांव जा रहे थे। जहां पड़ोस में एक शादी थी। मृतक के पिता ने बताया कि अगले महीने रोहित की शादी करने की सोची थी। लड़की वालों से बात चल रही थी। लगभग सब कुछ तय था। लेकिन, होनी को कुछ और ही मंजूर था। कहते हुए कैलाश फफक पड़ते थे।

दिल्ली में फूल का है कारोबार
कैलाश ने बताया कि दिल्ली में रहते हैं। रोहित भी साथ रहता था। वह ड्राइवर का काम करता था। उनका फूल का कारोबार है। इधर, टाउन थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंची व शव को कब्जे में लेकर छानबीन में जुट गई है। ASI

इनपुट : दैनिक भास्कर

2 thoughts on “मुजफ्फरपुर मे दर्दनाक हादसा : पानी मे करंट आने से बेटे ने माँ और बाप के सामने तोड़ा दम, कौन जिम्मेदार”
  1. You are in reality a just right webmaster. The web site loading velocity is incredible.

    It kind of feels that you’re doing any distinctive trick.
    In addition, the contents are masterwork. you’ve performed a fantastic process in this subject!
    Similar here: tani sklep and also here: Dyskont online

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *