https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

गर्मी के मौसम मे आम खाना हर कोई पसंद करता है. फलों का राजा कहे जाने वाले आम की एक से बढ़कर एक किस्म बाजार में उपलब्ध है. लेकिन आम की मिठास की वजह से शुगर के मरीजों के लिए इस फल को खाना मुश्किल हो जाता है. लेकिन अब बिहार के एक किसान की बदौलत शुगर के मरीज भी आम को लुत्फ उठा पाएंगे.


आम का नाम अमेरिकन ब्यूटी है
मुजफ्फरपुर के किसान भूषण सिंह के बगीचे का आम आजकल चर्चा का विषय बना हुआ है. इस आम का रंग, शेप, साइज सामान्य आमों से बिल्कुल अलग है. इसके साथ ही यह आम शुगर फ्री है और इसका नाम अमेरिकन ब्यूटी है. किसान का कहना है की जो भी लोग यहां से गुजरते है वो एक बार इस आम का दीदार जरूर करते हैं.


6 साल पहले बगीचे में लगाया आम
मुजफ्फरपुर के मुशहरी गांव के रहने वाले किसान भूषण सिंह इस आम के पौधे को पश्चिम बंगाल से लेकर आए थे. इस खास किस्म के पौधे को उन्होंने 6 साल पहले अपने बगीचे में लगाया था. दो साल पहले से इस पेड़ में फल लगना शुरू हुआ. किसान भूषण सिंह का कहना है की यह आम शुरुआत से लेकर पकने तक 16 बार अपना रंग बदलता है. लेकिन इसका मंजर और दाना अन्य आमों की तरह ही होता है.


पांच महीने में तैयार होता है
भूषण सिंह बताते है यह आम पाँच महीने में तैयार हो जाता है. जुलाई महीने में यह आम पक कर तैयार हो जाएगा. पकने के बाद इस आम का वजन आधा किलो के आस पास होता है. किसान का कहना है की यह आम शुगर फ्री है जिस कारण से इसकी मिठास अन्य आमों की तुलना में कम है. हालांकि इसका स्वाद बहुत ही अच्छा है.

पौधे की मांग बढ़ी

किसान भूषण सिंह बताते है की चर्चा में आने के बाद इसके पौधे की मांग बढ़ गई है. जो भी इस आम को देखता है वह एक बार इसके पौधे की मांग जरूर करता है. लेकिन बिहार में अभी तक इसके पौधे की नर्सरी नहीं है. लेकिन इसकी नर्सरी बनाने के दिशा में काम किया जा रहा है.

इनपुट : प्रभात खबर

Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *