0 0
Read Time:3 Minute, 6 Second

मुजफ्फरपुर: मुजफ्फरपुर के लोग भले ही पताही एयरपोर्ट से उड़ान नहीं भर सके लेकिन जल्द अब यहां के लोग प्लेन में बैठकर खाना खाते हुए नजर आएंगे. यहां के लोगों को प्लेन में बैठकर खाना खाने का आनंद उठाने का मौका जल्द ही मिलने वाला है. इसके लिए जिले के एक व्यवसायी ने रेस्टोरेंट बनाने के लिए सचमुच का ही प्लेन तमिलनाडु के कोयंबटूर से दरभंगा फोरलेन से सटे शहबाजपुर के मिठनपुरा चौक के बसंत पैलेस के पीछे उतार दिया है.

इस प्लेन को खेत में उतारा गया है तभी से यह इलाके के लोगों के लिए चर्चा का विषय बन गया है. यहां आसपास के लोग विमान के साथ सेल्फी लेकर सोशल मीडिया पर शेयर भी कर रहे हैं. मुजफ्फरपुर के नेताओं ने यहां की जनता को एयरपोर्ट चालू करने का आश्वासन देकर हमेशा से वोट लेने का काम किया है लेकिन आज मुजफ्फरपुर जिले के मीनापुर प्रखंड के युवा व्यवसायी साकेत शाही ने मुजफ्फरपुर वासियों को एयरपोर्ट से उड़ान भरने का तो नहीं लेकिन एरोप्लेन में भोजन करने मौका देने का काम किया है.

यहां के युवा व्यवसायी साकेत शाही ने कहा कि एरोप्लेन वाली रेस्टोरेंट खोलने की योजना उनकी तरफ से बहुत पहले से थी. यह इसे शहरी क्षेत्र में खोलना चाहते थे लेकिन इसके लिए इतना बड़ा जगह नहीं मिला तो अहियापुर इलाके के सहबाजपुर पंचायत में जमीन लीज पर लेकर हवाईजहाज में रेस्टोरेंट खोलने के लिए प्लेन को तमिलनाडु से लाया गया.

जानकारी के मुताबिक यह 60 सीटर एरोप्लेन है. जिसमें एक साथ 60 लोग खाना खाने का आनंद ले सकेंगे. यह मुजफ्फरपुर के लिए एक अपनी तरह का अनोखा रेस्टोरेंट होगा. वहीं खेत में उतारे गए एरोप्लेन पूरे इलाके में चर्चा का केंद्र बना हुआ है. जहां एरोप्लेन को देखने के लिए लोग आ रहे हैं और प्लेन के साथ सेल्फी और वीडियो बना कर उत्साहित हो रहे हैं. इस पुराने एरोप्लेन की डेंटिंग पेंटिंग कर एरोप्लेन रेस्टोरेंट खोला जाएगा जिसमें लोग बैठकर भोजन कर सकते हैं. एरोप्लेन को लोग देख सकते हैं इसमें बैठकर खाना खा सकते हैं लेकिन उड़ान नहीं भर सकते हैं.

Source : Zee News

Advertisment

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: