https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर, जिलाधिकारी द्वारा आज सुबह 9:15 में सदर अस्पताल मुजफ्फरपुर का औचक निरीक्षण किया गया. निरीक्षण के क्रम में 10 चिकित्सक और 7 पारा मेडिकल स्टाफ रोस्टर के हिसाब से अनुपस्थित पाए गए. जिसपे एक्शन लेते हुए जिलाधिकारी ने सभी अनुपस्थित चिकित्सकों का एक दिन का वेतन स्थगित रखते हुए उनसे स्पष्टीकरण पूछने का निर्देश दिया है। साथ ही भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति ना हो इस आशय की उन्हें चेतावनी भी दी गई है। अनुपस्थित चिकित्सक एवं कर्मी कुछ देर के बाद पहुंच गए।उन्होंने कहा कि पहले मरीजो का कोरोना जांच हेतु एंटीजन टेस्ट किया जाता है। ऐसे में ओपीडी में विलंब हो जाता है। परंतु उनके इस तर्क को स्वीकार नहीं करते हुए उपरोक्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

निरीक्षण के क्रम में मरीजों से बात करने के बाद पता चला कि मरीजों को भोजन नहीं दिया जा रहा है । इसका कारण पूछने पर बताया गया कि कोरोना काल के कारण मरीजों की संख्या कम होने से संबंधित भोजन उपलब्ध कराने वाली एजेंसी द्वारा असमर्थता व्यक्त की गई है। हालांकि उक्त अवधि में कोई भुगतान नहीं किया गया है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि दो दिन के अंदर भोजन की सुविधा बहाल करना सुनिश्चित किया जाए।

सिटी स्कैन तैयार हालात में था परंतु अभी चालू नहीं किया गया था। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि 16 दिसंबर 2020 तक हर हाल में सीटी स्कैन की सुविधा बहाल करना सुनिश्चित किया जाए। वही निरीक्षण के क्रम में डिजिटल एक्सरे और पैथोलॉजिकल का कार्य एवं एंटीजन टेस्टिंग का कार्य किया जा रहा था। निरीक्षण के वक्त निबंधन काउंटर खुला हुआ था। उस समय तक 81 मरीजों का निबंधन हो चुका था। इमरजेंसी वार्ड, महिला वार्ड ,बच्चों का वार्ड में व्यवस्था संतोषजनक पाई गई। साफ सफाई एवं देखभाल की व्यवस्था के बारे में पूछने पर मरीजों ने इसे संतोषजनक बताया। उप विकास आयुक्त ने सकरा पीएचसी ,अपर समाहर्ता राजेश कुमार ने मड़वन पीएचसी और एसडीओ पश्चिमी द्वारा काटी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण प्रतिवेदन उनके द्वारा जिलाधिकारी के समक्ष उपस्थापित किया जाएगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि इस प्रकार का औचक निरीक्षण लगातार किए जाएंगे। उन्होंने जिले के सभी विभागों एवं संबंधित अधिकारियों को स्पष्ट रूप से कहां है कि आम आवाम से जुड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन गंभीरतापूर्वक किया जाए।

2 thoughts on “मुजफ्फरपुर : जिलाधिकारी ने किया सदर अस्पताल का निरीक्षण, 10 चिकित्सक और 7 पारा मेडिकल स्टाफ अनुपस्थित”
  1. Lorsque vous avez des doutes sur les activités de vos enfants ou sur la sécurité de leurs parents, vous pouvez pirater leurs téléphones Android à partir de votre ordinateur ou appareil mobile pour assurer leur sécurité. Personne ne peut surveiller 24 heures sur 24, mais il existe un logiciel d’espionnage professionnel qui peut secrètement surveiller les activités des téléphones Android sans les en informer.

  2. ダッチワイフ 巨乳 ダッチワイフは日本のセックス危機をどのように解決しますか?オッフェンイートアップルは男性の前立腺を確保する可能性があります市場でよく知られているシリコーン人形の種類米国で最も安い一流のTPEセックス人形商人

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *