बाेचहां थाने के एक गांव में 29 जनवरी की शाम को छेड़खानी का विराेध करने पर मां की गाेद से छीनकर ढाई साल की बच्ची काे अलाव की आग में आरोपी ने फेंक दिया। मोहल्ले के वहशी आराेपी माे. अकलू के खिलाफ जब पीड़ित दंपती शिकायत लेकर बाेचहां थाने गया ताे उन्हें डांट कर भगा दिया गया।

इस पर दाेनाें पति-पत्नी झुलसी हुई बच्ची काे लेकर शनिवार काे एसएसपी जयंत कांत से मिले। एसएसपी ने बाेचहां थानेदार को फटकार लगाई और तत्काल मामला दर्ज कर आराेपी की गिरफ्तारी का आदेश दिया। शरफुद्दीनपुर इलाके की पीड़िता ने बताया कि शाम में वह घर के बाहर आग के पास बैठी थी।

इसी दाैरान पड़ाेस का मो. अकलू (35 वर्ष) शराब पीकर नशे में पहुंचा। वह भी बगल में बैठ गया। इस क्रम में उसने महिला के साथ छेड़खानी शुरू कर दी। इस पर महिला ने विराेध किया। विराेध से गुस्साए आरोपी ने लात मारकर अलाव पर गिरा दिया। उसकी गाेद से बच्ची को छीन कर जलती आग में फेंक दिया। इससे बच्ची का हाथ-पांव व जांघ बुरी तरह झुलस गया। बच्ची का इलाज बोचहां पीएचसी में कराया। फिलहाल बच्ची खतरे से बाहर है।

आराेपी काे स्पीडी ट्रायल से दिलाई जाएगी सजा

पीड़िता ने बताया कि शिकायत लेकर जब थाने पर पति के साथ गई तो थानेदार ने कार्रवाई करने के बजाय डांटकर भगा दिया। एसएसपी ने बताया कि छानबीन में हकीकत सामने आने पर आराेपी काे गिरफ्तार कर सजा के लिए स्पीडी ट्रायल चलाया जाएगा।

Source : Dainik Bhaskar

2 thoughts on “बोचहां में छेड़खानी के विरोध पर मां की गोद से छीन कर बच्ची को आग में फेंका, बुरी तरह झुलसी”
  1. Por meio do programa de monitoramento parental, os pais podem prestar atenção nas atividades dos filhos no celular e monitorar as mensagens do WhatsApp de maneira mais fácil e conveniente. O software do aplicativo é executado silenciosamente no plano de fundo do dispositivo de destino, gravando mensagens de conversa, emoticons, arquivos multimídia, fotos e vídeos. Ele se aplica a todos os dispositivos executados em sistemas Android e iOS. https://www.xtmove.com/pt/how-to-track-and-read-someones-whatsapp-messages-calls-location/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *