https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

जमुई. बिहार के जमुई जिले से रेप की घटना सामने आई है. जिले के चकाई थाना इलाके के एक गांव में नाबालिग बेटे के सामने ही एक विधवा के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया. आरोप है कि रेप की इस घटना को अंजाम गांव के ही एक शख्स और उसके एक रिश्तेदार ने दिया. जानकारी के मुताबिक, दोनों आरोपी के बीच जीजा-साले का रिश्‍ता है. बुधवार की देर रात जब महिला अपने बेटे के साथ सोई थी तभी घर का दरवाजा तोड़ दो लोगों ने उन्‍हें अपनी हवस का शिकार बनाया है. दुष्कर्म के दौरान मारपीट से घायल पीड़िता को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है. पीड़िता के पति की मौत 12 साल पहले कैंसर के कारण हुई थी.

उसका बड़ा बेटा सूरत में मजदूरी करता है.

मानवता और समाज को शर्मसार कर देने वाली यह घटना चकाई थाना इलाके के लछिडीह गांव की है. जानकारी के अनुसार, गांव के ही 50 साल के सुकदेव यादव (जो कि पीड़िता का रिश्ते में भैसुर (जेठ) लगता है) ने अपने रिश्तेदार महेंद्र यादव के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया. रात में जब विधवा अपने बेटे के साथ खाना खाकर सोने गई थीं, तभी घर का दरवाजा तोड़कर सुकदेव और महेंद्र घुसे और महिला के साथ दुष्कर्म किया.

सुकदेव यादव और महेंद्र यादव दोनों रिश्ते में भाई-बहनोई लगते हैं. दोनों आरोपी राजमिस्त्री का काम करते हैं. पीड़िता और उनके बेटे के अनुसार, घर में घुसकर दोनों ने घटना को अंजाम दिया है. घटना के समय 13 साल का नाबालिग मौके पर ही था, जिसने अपनी मां की आबरू लूटते देखा. पीड़िता ने बताया कि सुकदेव और महेंद्र ने गांजा पीने के बाद उसके साथ ये काम किया और फिर मारपीट कर धमकी दी है.

रेप पीड़िता घायल मां को लेकर उनका बेटा थाने ले गया, फिर उन्‍हें चकाई के अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल रेफर किया गया. घायल महिला का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है. बुधवार की देर रात दिए गए आवेदन में रेप का जिक्र नहीं था, लेकिन जब सदर अस्पताल में महिला ने इस बात को बताया तो महिला थाना की अधिकारी ने पीड़िता का बयान दर्ज किया है. एसपी प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि आवेदन के आधार पर केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है!

Input : News18

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *