https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

हथौड़ी थाना क्षेत्र में पौने तीन साल पूर्व 16 वर्षीय किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में दो भाइयों समेत चार दोषियों को मंगलवार को सजा सुनाई गई। सभी को 20-20 साल जेल के साथ 50-50 हजार रुपए अर्थदंड लगाया गया है। पीड़िता के अधिवक्ता के मुआवजे के अनुराेध काे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया। हालांकि, सजा के फैसले के बाद कोर्ट परिसर में ही पीड़िता के पिता के साथ गाली-गलौज हुई।

उन्हें धमकी दी गई। इससे पीड़ित परिवार दहशत में है। उल्लेखनीय है कि सोमवार को विशेष पॉक्साे कोर्ट के एडीजे सात रवि शंकर कुमार ने चारों को दोषी करार दिया था। इनमें प्रशांत गुप्ता, निशांत गुप्ता, पिंटू गुप्ता व आबिद अंसारी (सभी पीड़िता के गांव के) हैं। प्रशांत व निशांत सगे भाई हैं। घटना 30 जुलाई 19 की शाम काे घटी। इंटर की छात्रा घर से दूध लाने निकली थी।

इसी दौरान बांसवाड़ी में ले जाकर चारों ने उसके साथ रेप किया। वहां से किसी तरह से भाग कर डरी-सहमी पीड़िता घर पहुंची। घटना के बारे में परिवार वालों को बताने के बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई। वह बेहोश हो गई। उसे एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया।

चाराें काे 20-20 साल कैद…
उसी रात हाेश में आने पर महिला थानाध्यक्ष ने पीड़िता का बयान दर्ज कर चारों के खिलाफ गैंगरेप की एफआईआर की। 10 लोगों की गवाही हुई। दो गवाह मुकर गए। सजा पर फैसले से पहले बचाव पक्ष की अधिवक्ता ऋचा स्मृति ने अभियुक्तों की कम उम्र व पहले से कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं रहने का हवाला देकर कम से कम सजा की गुजारिश की। जबकि, विशेष लोक अभियोजक (पॉक्सो) अजय कुमार और पीड़िता के अधिवक्ता ओम बाबू व विनय तिवारी ने ज्यादा से ज्यादा सख्त सजा की मांग की।

दोषियों के वकील ने कहा कि हाईकोर्ट जाएंगे। उधर, कोर्ट से बाहर निकलने के दौरान दोषियों के परिजनों ने हंगामा किया। जेल भेजते समय दोषी फफक कर रोने लगे। गाली-गलौज के बीच पीड़िता के पिता निकले। पीड़िता के पिता ने कहा- कोर्ट परिसर में ही धमकी मिली है। वे लोग सहमे हुए हैं। इस दौरान मीडियाकर्मियों के साथ भी बदसलूकी की गई।

बोली गैंगरेप पीड़िता- मुझे बुरी तरह से रौंद डाला, उस शाम को कभी नहीं भूल सकती

उस शाम को मैं कभी नहीं भूल सकती। दूध लाने जा रही थी। तभी चारों दरिंदों ने बांसवाड़ी में ले जाकर रेप किया। मुझे बुरी तरह से रौंद डाला। घर वाले एसकेएमसीएच लेकर पहुंचे। उसी रात एसकेएमसीएच में पुलिस को बयान दिया। मुझे यह विश्वास नहीं था कि इतनी जल्दी इन्हें सजा होगी। मंगलवार की दोपहर 1:30 बजे पापा का फाेन आया। वह कुछ सहमे हुए थे। पापा ने बताया- कोर्ट में आरोपियों के परिजन हंगामा कर रहे हैं। बहुत गाली बक रहे हैं। धमकी भी दी है। पापा ने कहा- कोर्ट ने चारों को 20-20 साल की कड़ी सजा दी है। चारों को जेल ले जाया जा रहा है।

मैं यह नहीं कह सकती कि सजा सुनकर खुश हो गई। हां, मन को बहुत तसल्ली मिल रही है। उस शाम से मैं कई बार विचलित हुई। भाई, पापा और घर के बाकी लोगों का सहारा मिला। तब से मैं दुष्कर्म करने वालाें को मिलने वाली सजा के इंतजार में थी। बाकी लड़कियों से मैं कहना चाहती हूं कि जब भी कुछ हो, घरवालों से बताएं। देर-सबेर इंसाफ मिलेगा। कानून का इंसाफ मुझे मिल गया। अब पुलिस प्रशासन मुझे और मेरे परिवार को सुरक्षा मुहैया कराए।

इनपुट : दैनिक भास्कर

4 thoughts on “मुजफ्फरपुर : 3 साल पुराने गैंगरेप मामले मे 4 दोषियों को मिली सजा, सजा के ऐलान के बाद पीड़िता के पिता को धमकी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *