https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3863356021465505

मुजफ्फरपुर, राज्य में कोरोना से मृत लोगों के आश्रित को मुख्यमंत्री राहत कोष से मिलने वाली चार-चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता में पेच फंस गया है। क्योंकि राज्य स्वास्थ्य समिति की कोरोना से मृत की सूची में शामिल कई लोग जीवित मिल रहे हैं। वहीं कई मृतकों के नाम इस सूची में नहीं हैं। जिलों के डीएम ने इस तरह की समस्या की जानकारी मुख्यमंत्री कार्यालय को दी है। इसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय के सचिव अनुपम कुमार ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिखकर जिलों की डीएम की उक्त समस्या के निदान का आग्रह किया है।

सचिव की ओर से जारी पत्र के अनुसार राज्य में कोरोना से मृत 1180 लोगों के लिए विभिन्न जिलों को 47.20 करोड़ रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष से जारी किए गए। मगर कई जिलों में कई मृतक चिह्नित नहीं हो पा रहे हैं।

जांच में यह बात सामने आ रही कि वे दूसरे जिले या राज्य के निवासी थे। मृतकों की सूची में शामिल कुछ नाम के व्यक्ति जीवित मिल रहे हैं। साथ ही कई ऐसे लोग जिनकी कोरोना से मौत हुई उनके नाम नहीं हैं। मालूम हो कि मुजफ्फरपुर जिले में कोरोना से 81 लोगों की मौत हुई है।

जिले में आठ लाख 15 हजार 184 लोगों की जांच कराई गई है। इसमें 11502 कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। इनमें से 11406 स्वस्थ हो गए। 15 कोरोना सक्रिय हैं।

इनपुट : जागरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *